Monday, August 8, 2022
Homeक्राइममाता वैष्णो देवी के दरबार जाने की बना रहे हैं योजना तो...

माता वैष्णो देवी के दरबार जाने की बना रहे हैं योजना तो हो जाएं सावधान! हेलीकॉप्टर सेवा के नाम पर हो रही है ठगी, जानें-पूरा मामला

चैत्र नवरात्रि में जम्मू-कश्मीर के कटड़ा स्थित माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए हर साल लाखों लोग पहुंचते हैं। ऐसे में कुछ फर्जी वेबसाइट्स इसका फायदा उठाकर लोगों को ठग रहे हैं। दरअसल यहां आने वाले कुछ लोगों से हेलीकॉप्टर की सवारी सहित अलग-अलग सेवाओं के नाम पर कुछ फर्जी वेबसाइट्स ने हजारों रुपये ठग लिए हैं। ठगी का मामला सामने आने के बाद श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने लोगों को चेताया है। मामले में बिहार के तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई है।

इंजीनियर हुआ ठगी का शिकार
गाजियाबाद का एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हेलीकॉप्टर सेवा के नाम पर ठगी का शिकार हो गया। ठगों ने उससे 34 हजार 600 रुपये हड़प लिए। पीड़ित क्रॉसिंग रिपब्लिक का रहने वाला है। उसने बताया कि उसे परिवार के साथ अप्रैल में वैष्णो देवी जाना था। इसके लिए उसने हेलिकॉप्टर बुकिंग के लिए ऑनलाइन सर्च किया। इस दौरान सबसे ऊपर एक वेबसाइट आई। उसमें उन्होंने 12 लोगों के लिए बुकिंग की, जिसके बदले में 34 हजार 600 रुपये की ऑनलाइन पेमेंट कर दी। इसके बाद उन्हें बुकिंग के संबंध में कोई डिटेल नहीं मिली तो उसने दोबारा वेबसाइट को सर्च किया तो वह चली नहीं। इसके बाद उसने साइबर सेल में शिकायत दी।

लुधियाना में भी आ चुका है मामला
लुधियाना में भी माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए हेलिकॉप्टर की ऑनलाइन बुकिंग का झांसा देकर महिलाओं के ग्रुप से 50 हजार रुपये ठगे गए हैं। ग्रुप में शामिल सभी महिलाएं शहर के कारोबारी परिवारों से संबंध रखती हैं। ऑनलाइन टिकट बुक करवाने के बाद जब वे कटड़ा पहुंच गई तो वहां उन्हें पता चला कि उनके साथ धोखा हुआ।

बिहार में तीन लोगों की गिरफ्तारी
जम्मू कश्मीर पुलिस ने माता वैष्णो देवी की दर्शन के लिए फर्जी वेबसाइट के जरिए हेलीकॉप्टर टिकट की बुकिंग के नाम पर लोगों को ठगने के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। बुधवार को अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस ने माता वैष्णो देवी तीर्थाटन के लिए हो रही फर्जी ऑनलाइन टिकट बुकिंग धोखाधड़ी के संबंध में मिली शिकायतों के आधार पर कटरा में तीन प्राथमिकियां दर्ज की थीं।

उन्होंने बताया कि मामले दर्ज करने के बाद विशेष दल बनाए गए और उन्हें इस अपराध में शामिल आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए देश के अलग-अलग हिस्सों में भेजा गया था। अधिकारी ने बताया कि गहन जांच के बाद एक पुलिस दल ने बिहार के कुछ स्थानों पर अपनी नजर टिकायी और अलग-अलग जगहों पर छापा मारने के बाद अशोक मिस्त्री, संतोष कुमार के अलावा लखपति पासवान को गिरफ्तार किया। इस दौरान उनके पास से फर्जी दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं।

देश भर में चल रहीं थीं 40 फर्जी वेबसाइट्स
अधिकारियों के अनुसार जांच के दौरान 40 फर्जी वेबसाइट पाई गईं और उन्हें बंद किया गया। ये वेबसाइट कई तरह के ऑफर देकर लोगों को टिकट बुक करने के लिए आकर्षित करती थीं। रियासी जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने श्रद्धालुओं से श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट का ही इस्तेमाल करने की सलाह दी है।

बोर्ड ने गूगल को लिखा पत्र
पिछले साल श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने कई श्रद्धालुओं के ठगे जाने के बाद फर्जी वेबसाइट्स को ब्लॉक करने के लिए गूगल को पत्र लिखा। बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार ने बताया कि फर्जी वेबसाइट के माध्यम से फर्जी टिकट बुक की जाती है। उन्होंने बताया था कि इसे लेकर पुलिस में भी शिकायत की गई है। साथ ही उन्होंने कहा कि श्राइन बोर्ड की ओर से दी जाने वाली सभी ऑनलाइन सेवाएं केवल इसकी आधिकारिक वेबसाइट maavaishnodevi.org या ऐप पर ही उपलब्ध हैं। ठगी से बचने के लिए आधिकारिक वेबसाइट का ही इस्तेमाल करें।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments