Saturday, December 3, 2022
Homeक्राइमNIA अब साइबर क्राइम पर भी कसेगी नकेल, Home Ministry ने एनआईए...

NIA अब साइबर क्राइम पर भी कसेगी नकेल, Home Ministry ने एनआईए के दो नए विंग को दी मंजूरी

देशभर में Terrorist Activity और Terror Funding को रोकने के लिए काम कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी NIA अब और मजबूत होगी। इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने NIA को और अधिक विस्तार देने का निर्णय लिया है और इसके तहत एनआईए अब देश के बड़े Cyber Crime और Human Trafficking के मामलों की भी जांच करेगी।

NIA के दो नए विंग में 142 अधिकारियों की होगी नियुक्ति

Central Home Ministry ने एनआईए में दो Special Wing बनाने के लिए अपनी मंजूरी दे दी है और गृह मंत्रालय ने एनआईए को  विंग बनाने के लिए 142 अधिकारियों की नियुक्ति किए जाने का प्रस्ताव भी मंजूर कर लिया है।

हाल के वर्षों में NIA की गई जांच में दर्जनों Terror Funding और आतंकी गतिविधियों में  Dark web के इस्तेमाल की जानकारी सामने आई थी और एनआईए को Terror Funding के नाम और उनके बारे में भी पता चला था जिसमें यह बात सामने आई थी कि अब आतंकी एक जगह से दूसरी जगह रकम भेजने के लिए हवाला नेटवर्क का प्रयोग नहीं कर रहे हैं बल्कि यह लोग Bitcoin समेत अन्य तरह की Digital Currency का इस्तेमाल कर रहे हैं। यानी आतंकी गतिविधियों में Cyber Crime से फंडिंग जुटाई जाने की बात सामने आ रही है।

ALSO READ: Samsung हुआ Cyber Attack का शिकार, क्या आपका निजी Data है सुरक्षित, जानिए इस खबर में

इसके बाद NIA ने अपने सिस्टम को और भी बेहतर बनाने के लिए गृह मंत्रालय के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक की थी और Cyber Crime से संबंधित Module के बारे में जानकारी दी थी। इसके बाद गृह मंत्रालय की तरफ से एनआईए में एक Cyber Forensic Wing बनाने का आदेश दिया गया और पहले चरण में यह NIA Headquarter में साइबर फॉरेंसिक विंग काम करेगा फिर बाद में राज्यों के मुख्यालय में भी इसे स्थापित किया जाएगा।

ALSO READ: जामताड़ा गैंग (Jamtara Gang) पर लगाम लगाने की तैयारी, Home Ministry ने बनाई योजना, जानिए क्या है स्ट्रेटजी

Cyber Forensic Wing को डीआईजी रैंक के अधिकारी करेंगे Lead

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) में Cyber Forensic Wing बनाने का काम अगले 2 महीने में पूरा कर लिए जाने की बात सामने आ रही है और इस विंग में DIG रैंक के अधिकारी को तैनात कर उन्हें लीड करने की जिम्मेदारी दी जाएगी। इसके साथ ही इस टीम में SP, DSP और Inspector रैंक के अधिकारी भी शामिल होंगे। दिल्ली में इस विंग का एक मुख्य Base बनाया जाएगा जिसमें हाईटेक साइबर फॉरेंसिक लैब बनाई जाएगी और अलग-अलग Expert  को नियुक्त किया जाएगा। इसके अलावा 24 घंटे Dark Web पर आतंकी गतिविधियों पर नजर रखने वाली भी एक टीम की तैनाती की जाएगी।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments