ओडिशा में डॉक्टर से सिम कार्ड एक्टिवेट करने के बहाने 77 लाख रुपये की ठगी

SIM swap fraud is increasing in India


Cyber Crime News : ओडिशा में कटक के एक डॉक्टर को साइबर अपराधियों ने मोबाइल सिम कार्ड एक्टिवेट करने के बहाने ठग लिया। उन्होंने डॉक्टर को 77 लाख रुपये से अधिक का चूना लगाया है। मामला तब सामने आया जब मरकट नगर पुलिस के अंतर्गत सीडीए सेक्टर 7 के डॉ. सनातन मोहंती ने शहर के साइबर पुलिस स्टेशन में बुधवार को शिकायत दर्ज कराई। इसमें उन्होंने बताया कि एसबीआई बैंक में उनके दो खातों से 77 लाख 86 हजार 727 रुपये निकाल लिए गए हैं।

एफआईआर में मोहंती ने कहा कि उन्हें 9 फरवरी को एक कॉल आई, जिसमें फोन करने वाले ने उन्हें बताया कि उनका बीएसएनएल सिम कार्ड जल्द ही डी-एक्टिवेट हो जाएगा। फोन करने वाले ने सिम कार्ड को एक्टिवेट करने के लिए मदद की पेशकश करते हुए, उनसे अपना एटीएम कार्ड नंबर और बैंक से संबंधित जानकारी प्रदान करने के लिए कहा।

सीवीवी नंबर सहित अपने डेबिट कार्ड नंबर और बैंक डिटेल शेयर करने के बाद, डॉक्टर के मोबाइल पर एसबीआई से संदेश आया कि उनका एटीएम ब्लॉक हो गया हा। उन्होंने कहा कि बैंक से संपर्क करने पर पता चला कि 25,292.98 रुपये और 24,284.21 रुपये दो लेनदेन बैंक अकाउंट से हुए हैं। बैंक रजिस्टर से यह पता चला कि 9 फरवरी की शाम को पीओएस मशीनों से खरीदारी की गई थी।

डॉक्टर ने जब इस संबंध में बैंक के मैनेजर से संपर्क किया, तो उन्होंने बताया कि एक नया एटीएम कार्ड जारी किया जाएगा और यह भी आश्वासन दिया कि आगे कोई ऐसा कोई फ्रॉड लेनदेन नहीं होगा। हालांकि, जब वह 15 फरवरी को बैंक के एक अन्य शाखा में गए, तो उन्हें पता चला कि 9 फरवरी से 15 फरवरी के बीच उनकी जानकारी के बिना खाते से 77,86,727 रुपये के लिए कई लेनदेन हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here