Monday, December 5, 2022
Homeक्राइमबगैर OTP शेयर किए लिंक भेजकर अकाउंट खाली कर रहे साइबर ठग,...

बगैर OTP शेयर किए लिंक भेजकर अकाउंट खाली कर रहे साइबर ठग, दिल्ली में BJP नेता शिकार

देश में साइबर क्राइम के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। साइबर अपराधी अलग अलग तरीके अपनाकर लोगों की खून पसीने की कमाई पर सेंध लगाने का काम कर रहे है। कभी वेबसाइट लिंक के जरिए तो कभी यूपीआई के ज़रिये साइबर अपराधी चंद मिनटों में नहीं बल्कि चंद सेकेंडस में खाते में पड़ी पूरी रकम अपने खाते में ट्रांसफर कर लेते हैं और किसी को भनक तक नहीं लगती। साइबर अपराधियों ने धोखाधड़ी के अब ऐसे नए-नए तरीके निजात कर लिए हैं कि उनको खाते से रकम साफ करने के लिए ओटीपी की भी जरूरत नहीं पड़ती। बस आपके अपने मोबाइल में एक क्लिक करते ही आपके खाते से सारी रकम साफ हो जाएगी।

साइबर ठगी के शिकार हुए बीजेपी नेता
ताजा मामला उत्तरपूर्वी दिल्ली के भजनपुरा इलाके का है जहां साइबर अपराधियों ने बीजेपी नेता भारत भूषण मल्होत्रा के एसबीआई खाते से 23 हज़ार रुपए पर हाथ साफ कर लिया। दरहसल भारत भूषण मल्होत्रा को अपने मोबाइल पर एक मैसेज प्राप्त हुआ, जिसमें लिखा था कि आपका एसबीआई योनो अकॉउंट बंद होने वाला है कृपया लिंक पर क्लिक कर खाते में पैन कार्ड अपडेट करें। जैसे ही भारत भूषण मल्होत्रा ने उस लिंक पर क्लिक किया उनकी स्क्रीन पर एसबीआई योनो की साइट खुल गयी इसके साथ उनके मोबाइल पर ओटीपी आने शुरू हो गए, लेकिन उन्होंने किसी के साथ ओटीपी शेयर नहीं किए लेकिन कुछ ही सेकेंड बाद उनके खाते से करीब 23 हज़ार रुपए साफ हो गए। फिलहाल उन्होंने दिल्ली पुलिस को शिकायत दर्ज करा दी है और मामले की जांच की जा रही है।

और पढ़े : एक्ट्रेस Sunny Leone हुईं साइबर ठगी का शिकार, PAN Card पर लिया गया 2000 रुपये का लोन

साइबर अपराध के कैसे बचें
अगर आपके पास कोई मैसेज आता है जिसपर लिंक आया हो उसपर बिना सोचे समझे क्लिक ना करें। आजकल लिंक भेजकर आपके मोबाइल को हैक कर लिया जाता है। फिर आपके मोबाइल का पूरा कंट्रोल साइबर ठग के हाथ मे हो जाता है और वो आपके मोबाइल से जो चाहे वो कर सकता है। इसलिए जिस लिंक की आपके पास पुख्ता जानकारी ना हो उसपर क्लिक करने से बचें।

औरपढ़े: PAN Card Fraud: कहीं आपके PAN Card पर किसी और ने तो नहीं लिया कर्ज, ऐसे करें चेक

बैंकिंग के लिए अलग नंबर रखें। अगर आपके पास दो नंबर है तो कोशिश करें एक नंबर से कॉलिंग करें और दूसरा नंबर बैंकिंग के लिए रखें। इससे फायदा ये होगा कि आपके बैंकिंग वाले नंबर पर कोई भी लिंक आता है, तो आप ज्यादा सतर्क रहकर उसपर क्लिक करेंगे। कोशिश करें कि बैंकिंग वाले नंबर को एंड्राइड मोबाइल की जगह किसी कीपैड वाले मोबाइल में रखें, जिससे साइबर ठगी के चांस काफी कम हो जाते है।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments