Sunday, January 29, 2023
Homeक्राइमLoan व EMI कराकर साइबर जालसाज कर रहे Fraud, आप भी हो...

Loan व EMI कराकर साइबर जालसाज कर रहे Fraud, आप भी हो सकते हैं निशाने पर

Cyber Criminals हर दिन अलग अलग तरीके से Fraud को अंजाम दे रहे हैं। अब आपके Account व क्रेडिट-डेबिट कार्ड की जानकारी लेकर Loan व EMI कराकर साइबर फ्रॉड कर रहे हैं. इस तरह की घटनाएं लगातार हो रही है। इस तरह की घटना रोकने के लिए पुलिस व साइबर सेल ने लोगों से अपील की है कि EMI के लिए Customer Care Call आने पर सावधानी बरतें।

साइबर जालसाज Loan व EMI के नाम पर दो तरीके से ठगी की  वारदात  कर रहे हैं। पहला तरीका यह है कि Cyber Criminals किसी बहाने से आपके खाते, पैन, डेबिट या क्रेडिट कार्ड की जानकारी प्राप्त कर लेते हैं तो Cash निकालने का प्रयास करते हैं। अगर कैश नहीं निकल पाता है तो आपके नाम पर Loan या EMI करा लेते हैं। इसके एवज में महंगे सामान खरीद लेते हैं। दूसरा तरीका यह है कि आपके मोबाइल पर Link भेजते हैं और आप जैसे ही लिंक क्लिक करते हैं तो आपका Mobile Hack हो जाता है। इसके बाद साइबर जालसाज आपके मोबाइल नंबर, Email आईडी लेकर खाते से लिंक नंबर व ईमेल आईडी को बदल देता है। इसके बाद आपके नाम पर Loan करा लेता है।

ALSO READ : ऐसे करें साइबर क्राइम की Online FIR

इन दोनों तरीके से हाल के दिनों कई घटनाएं हुई है। UP Cyber Crime के एसपी प्रो. त्रिवेणी सिंह का कहना है कि Cardless EMI के नाम पर साइबर फ्रॉड की घटनाएं बढ़ी हैं। इस कारण कभी भी किसी को अपनी कोई जानकारी नहीं दें। अगर आपने किसी अज्ञात Link पर क्लिक किया तो आपके मोबाइल का Access जालसाजों के पास चला जाएगा। इसके बाद आपके मोबाइल से आपके साथ जितनी चाहे उतनी की जालसाजी कर सकता है।

क्या है Card Less ईएमआई

इस नई सुविधा के तहत Customer बिना कार्ड के ही अपने मोबाइल और PAN Number का उपयोग कर गैजेट, घरेलू उपकरण समेत कोई सामान खरीदकर उसका भुगतान कर सकते हैं। इसके लिए Customer अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर, पैन और ओटीपी को Retail Outlets पर POS मशीन पर इनपुट करके पेमेंट को No Cost EMI में बदल सकते हैं। इसके बाद मोबाइल हैक कर साइबर जालसाज लगातार ठगी कर रहे हैं।

ALSO READCyber Crime की रिपोर्टिंग के लिए गृह मंत्रालय ने जारी किया नया हेल्पलाइन नंबर, अब 155260 की जगह 1930 नंबर पर करें कॉल

Pending EMI के नाम पर भी जालसाजी

साइबर जालसाज Pending EMI को क्लियर करने नाम पर भी ठगी कर रहे हैं। इसके लिए भी Cyber Fraud  दो तरीके अपनाते हैं। पहले तरीके के तहत Police Officer बनकर फोन करते हैं और बैंक की तरफ से शिकायत मिलने की बात कहते हैं। इसके बाद कोई कार्रवाई नहींंकरने के एवज में पैसे Transfer करवाते हैं। वहीं दूसरे तरीकेमें बैंक अधिकारी बनकर यह बताते हैं कि बैंक की तरफ से Pending EMI के लिए कुछ ऑफर की बात बताते हैं और झांसा देकर Link Click करवाकर खाते से पैसे उड़ा लेते हैं।

ALSO READ: Cyber Bank Fraud होने पर बस ये 3 टिप्स आजमाएं, 100% तक रिफंड हो जाएंगे पैसे, लेकिन इन गलतियों पर नहींं मिलेगा कोई रिफंड, जानें क्या है पूरा कानून

ऐसे बरतें सावधानी

– किसी को भी अपने खाते व Debit-Credit Card की जानकारी नहीं दें।

– अपना OTP व CVV नंबर बिल्कुल शेयर नहीं करें।

– किसी भी Link पर Click नहीं करें और Unwanted App डाउनलोड करने से बचें।

– EMI या Loan Pending  को लेकर कोई कॉल आए तो अलर्ट रहें।

– Loan-EMI  को लेकर कोई पुलिस अधिकारी बताकर फोन करे तो पहले स्थानीय पुलिस से Verification कराएं।

–  Loan-EMI को लेकर किसी धमकी या सेटेलमेंट कॉल आए तो सावधान रहें।

– ईएमआई व लोन के मामले में Police को सीधे कोई अधिकार नहीं है और बैंक इसकेलिए Court जाती है। कोर्ट में भी आपको अपना पक्ष रखने का मौका मिलेगा।

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments