Wednesday, January 26, 2022
Homeक्राइमGoogle पर साइबर ठग Online Paid Part Time Jobs का विज्ञापन देकर...

Google पर साइबर ठग Online Paid Part Time Jobs का विज्ञापन देकर ऐसे देते है ठगी को अंजाम, लाखो लोग हो रहे है रोज़ शिकार

मनीष सिंह: आज के दौर में हर किसी के पास इन्टरनेट उपलब्ध है और ऑनलाइन काम करने का विकल्प है, ऐसे में लोग पार्ट टाइम जॉब के झांसे में फंस जाते हैं| और इसी बात का फायदा साइबर क्रिमिनल उठा रहे हैं| दरअसल लोगों को लगातार पार्ट टाइम जॉब के ऑफर भेजकर फंसाया जा रहा है| इतना ही नहीं कम समय में ज्यादा पैसे कमाने के चक्कर में कई लोग अपनी मेहनत की कमाई भी गंवा रहे हैं|

आइये जानते है साइबर क्रिमिनल्स आपको किन-किन तरीको से पार्ट टाइम जॉब का ऑफ़र देकर धोखाधड़ी का शिकार बनाते है|

  1. Google/Social media पर ऐड देकर
  2. S.M.S. भेजकर
  3. E-Mail भेजकर
  4. Telephone या ऑनलाइन मीटिंग (Zoom, Meet, Etc.) पर इंटरव्यू लेकर
  5. Job Portal की फर्जी वेबसाइट बनाकर
  6. Job Portal (Naukari.com, Shine.com) पर पार्ट टाइम जॉब का फर्जो विज्ञापन देकर
  7. Fake Appointment Letter भेजकर
  8. Campus Placement का ऑफर देकर
  9. दीवारों/सार्वजनिक स्थानों पर पार्ट टाइम जॉब का पोस्टर चिपकाकर

Google/Social media पर साइबर ठग online work from home jobs (Part Time Job) का ऐड/ऑफर देकर ऐसे देते है ठगी को अंजाम

Google Ads पर आज आपको सैंकड़ों website मिल जाएँगी जो work from home jobs या Part Time Job देने का वादा करती है और घर बैठ कर कमाने को बहुत आसान बताती है, उनके हिसाब से अगर आप दिन में 2 – 5 घंटे भी काम कर लेते है यानि कि अपने part time में, तो आप बहुत आसानी से  10,000 -80,000 तक कमा सकते हैं। नहीं ये इतना आसान नहीं है। 

 कैसे ये लोग fraud करते है

  • आपने बहुत सारी classified websites पर work from home jobs और Part Time Jobs के ad देखे होंगे। खासकर Shine, Quikr और timesjob पर, क्योंकि ये websites ज्यादा popular हैं। जब आप ऐसे classified ad पर response/click करते हैं तो आपको mail मिलेगा जिसमे उनके various plans की details होगी। इनमे वो आपसे जितना ज्यादा registration charge जमा कराएँगे, उतनी ही ज्यादा आपकी income दिखाई जाएगी। 
  • अब next step होगा अपना plan select कर लें और फिर दिए हुए नंबर पर बात करें। अब वो आपसे इस तरह से बात करेगा जैसे कि आप किसी बहुत अच्छी company के professional से बात कर रहे हो। 2 -3 बार बात करने के बाद आपको ऐसा लगने लगेगा की आप ने सही जगह apply किया है और ये लोग fraud नहीं है
  • अब आपसे वो registration charge जमा करा देंगे, registration form भर देंगे, अपने documents भी जमा करा देंगे तो within 24 hrs आपको काम भी दे दिया जायेगा। ये काम आपको ये कहकर दिया जायेगा कि ये आपका training period है इसलिए आपको सिर्फ हमारी ही company के ad post करने हैं
  • अब हम दिन – रात लगकर अपना टारगेट पूरा करते हैं और 15 दिन बाद अपनी report submit कर देते हैं । जैसे ही हमने report submit कर दी अब उनका हमसे लेना देना खत्म और हमारी परेशानिया शुरू। अब वो हमसे registration charge 10000 रुपये ले चुका है हमसे अपनी fraud company के 1500 ad करवा चुका है। अब ना तो वो call receive करेगा ना किसी भी mail का कोई reply करेगा। अगर हम किसी दुसरे नंबर से call करके जैसे ही अपने पैसों की बात करेंगे तो call तुरंत disconnect कर देगा।
  • जरा सोचिये अब आप तो इस fraud का शिकार हो ही चुके हैं और 1500 ad इस fraud company के post कर दिए हैं उनसे कितने लोग और फंसेंगे। और ये लोग अनजाने में ही कितने और लोगो को इस fraud company के चक्कर में फंसा देंगे और इस तरह ये fraud companies घर बैठे -बैठे ही हमीं से लोगो को बेवकूफ बनवा के लाखों रूपए कमाते है।

 

कैसे करें खुद का बचाव?

  1. सबसे पहले आपको असत्यापित लिंक पर क्लिक करने से बचना होगा, खासतौर पर इस बात का ध्यान रखें कि, बेशक लिंक कितना भी आकर्षक क्यों ना हो, आपको इन तरह के मैसेज पर रिप्लाए नहीं करना है.
  2. अनजान व्यक्ति के साथ कोई भी आर्थिक लेन-देन करने से पहले सतर्कता बरतें. दरअसल कई लोग जॉब देने के लिए पहले पैसों की मांग करते हैं और फिर पैसे लेकर गायब हो जाते हैं, इसलिए किसी को जॉब के लिए पैसे ना दें.
  3. मैसेज फ्रॉड (Msg fraud) द्वारा भेजा गया है यह जानने के लिए सबसे पहले भेजने वाले की पहचान (ID) देखिए अगर संदिग्ध लगे तो रिपोर्ट करें। मैसेज में लिखी गई भाषा में गलतियां हो या फिर मैसेज में मात्राओं की गलतियां नजर आएं तो भी अलर्ट हो जाएं। साथ ही कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट को चेक करें। अगर संबंधित मैसेज की जानकारी न हो तो रिप्लाई न करें। 
  4. विश्वसनीय वेबसाइटों पर जाएं, ज्यादातर कंपनियां अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर नई नौकरियां पोस्ट करती हैं. इस तरह संदेहास्पद मेल की जगह कंपनी के करियर पेज पर जाएं. साइट पर सीधे अप्लाई करें. विदेश में नौकरी के लिए भारत में ‘एजेंटों’ से संपर्क कतई न करें.
  5. मेल/लेटर में खामियां तलाशें, मेल के जरिये संपर्क करने वालों का सबसे अच्छा तरीका उसे अच्छी तरह से पढ़ना है. अगर इसमें ई-मेल एड्रेस नहीं है. लेटर की फॉर्मेटिंग, स्पेलिंग की गलतियां इत्यादि को भी देखें.
  6. फर्म को कॉल कर मेल को सत्यापित करें : ऑफर या एपॉइंटमेंट लेटर में कोई शक है तो कंपनी के पंजीकृत लैंडलाइन नंबर पर कॉल करें. चेक करें कि जिस व्यक्ति ने मेल भेजा है, वह वास्तव में है कि नहीं.
  7. बहुत लुभावने जॉब ऑफर से सतर्क रहें : अगर आपको 70-80 फीसदी का इंक्रीमेंट ऑफर किया जाता है या फिर मार्केट ट्रेंड के अनुरूप नहीं है तो जान लें कि यह निश्चित ही फेक जॉब ऑफर है एक दूसरा इंडिकेटर यह है कि आपको बगैर औपचारिक इंटरव्यू के ऑफर लेटर थमा दिया जाए.

केस स्टडी –

आजमगढ़ के  रहने वाले एक लड़के संजय के पास एक एसएमएस (SMS) आया. इस मैसेज में लिखा था कि आप एक नामी कंपनी के साथ पार्ट-टाइम जॉब करके प्रतिदिन लगभग 8 हजार रुपये की इनकम कर सकते हैं. 8000 रुपये रोज का मतलब है महीने का लगभग दो-ढाई लाख रुपये. भला किसका मन नहीं ललचाएगा?

संजय को लगा कि ये एक अच्छी ऑपरचुनिटी है, जिसे मिस नहीं करना चाहिए. उसी मैसेज के नीचे एक वाट्सऐप (WhatsApp) लिंक दिया गया था. संजय ने उस लिंक पर क्लिक किया. वह लिंक लड़के को वाट्सऐप के एक नंबर पर ले गया. ये नंबर एक लड़की का था, जिसने खुद का नाम माही बताया.

उस लड़की ने संजय को जॉब के बारे में जानकारी दी और कहा- मैं आपको एक रजिस्ट्रेशन लिंक भेज रही हूं. उस लिंक पर जाकर आप अपने आप को रजिस्टर कर लें लड़के ने वैसा ही किया. संजय ने जैसे ही लिंक पर अपनी डिटेल शेयर की, उसके पास कुछ और लोगों ने फोन करना शुरू कर दिया. उन लोगों ने कहा कि वे ई-कॉमर्स कंपनी से बोल रहे हैं. उन्होंने उस को बातों में ऐसा उलझाया कि संजय को अपनी जॉब के पक्का होने पर यकीन हो गया. उन्होंने कहा कि अभी के लिए कुछ पैसे जमा करने के बाद बड़ा बोनस मिलेगा. धीरे-धीरे करके पारस ने 3 लाख 4 हजार रुपये अलग-अलग अकाउंट्स में ट्रांसफर कर दिए. जब कोई बोनस नहीं मिला और ठगों ने और पैसा मांगा तो संजय को समझ में आया कि उनके साथ फ्रॉड हुआ है. ।

साइबर अपराध घटित होने पर तुरंत साइबर क्राइम हेल्पलाइन न० 155260 या साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल www.cybercrime.gov.in पर तुरंत शिकायत रजिस्टर करे |

-मनीष सिंह, साइबर क्राइम थाना आजमगढ़

-मनीष सिंह, साइबर क्राइम थाना आजमगढ़

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments