Facebook अकाउंट कैसे होता है हैक, इन 3 गलतियों से फर्जीवाड़ा होता है, अभी करिए ये सेटिंग्स, फिर नहीं होगी हैकिंग

क्या आपका भी फेसबुक अकाउंट हैक हुआ है? क्या आपके फेसबुक अकाउंट की क्लोनिंग हुई है? या फेसबुक फर्जी प्रोफाइल बनाकर आपके दोस्तों से पैसे मांगे जा रहे हैं। आखिर ये साइबर क्राइम कैसे होता है? आपकी किस गलती की वजह से बन जाता है आपके नाम का फर्जी फेसबुक प्रोफाइल। ऐसे फर्जीवाड़े से बचने का जानिए पूरा स्टेप...

facebook
how to secure facebook from Hackers

How to secure Facebook: यूपी के तेज-तर्रार एक आईपीएस अधिकारी का फेसबुक अकाउंट हाल में ही हैक हो गया था? इनके नाम से फर्जी प्रोफाइल बनाकर उनके दोस्तों से पैसे मांगे गए थे। इनके अलावा यूपी और अन्य राज्यों के सीनियर आईएएस अधिकारियों के फेसबुक हैक होने की खबरें आ चुकी हैं। अभी भी रोजाना ऐसी खबरें आतीं रहती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आजकल जितने भी गैंग फेसबुक वाले साइबर क्राइम को अंजाम दे रहे हैं दरअसल, वो कोई हैकिंग के एक्सपर्ट नहीं हैं। ऐसे में वो कैसे कोई फेसबुक अकाउंट हैक कर लेंगे। ये सोचने की बात है। दरअसल, आजकल के साइबर क्रिमिनल आपके अकाउंट को हैक नहीं करते बल्कि आपकी कुछ गलतियों की वजह से वो आसानी से आपके नाम का फर्जी प्रोफाइल बना लेते हैं या आपके फेसबुक अकाउंट के पासवर्ड का पता लगा लेते हैं। इस तरह वो आसानी से आपके फेसबुक अकाउंट एक्सेस करने लगते हैं और ठगी को अंजाम दे देते हैं।

ये हैं वो 3 गलतियां, जिनकी वजह से होता है फेसबुक क्राइम

गलती नंबर-1 : अपने प्रोफाइल को लॉक नहीं करना, फ्रेंडलिस्ट और सबकुछ पब्लिक के लिए ओपन रखना

एक सर्वे के मुताबिक, इंडिया में अभी Facebook यूजर्स की संख्या करीब 347 मिलियन यानी 34 करोड़ 70 लाख लोग है। ये कह सकते हैं कि देश की आबादी के 25 प्रतिशत से ज्यादा लोग फेसबुक पर हैं। लेकिन इनमें से 85 प्रतिशत से ज्यादा लोग ऐसे हैं जो अपने फेसबुक अकाउंट को लॉक नहीं करते हैं। इस तरह इनके फेसबुक अकाउंट से होने वाली हर पोस्ट को दुनिया में कोई भी देख सकता है। इसी तरह इनके फेसबुक फ्रेंड्स कौन-कौन हैं? इसे भी आसानी से देखा जा सकता है। अब आप सोच रहे होंगे कि हमारे फेसबुक में कौन फ्रेंड है और हमारी पोस्ट को देखकर आखिर कोई क्राइम कैसे कर सकता है? वैसे भी सोशल मीडिया पर हम अपनी फोटो या कोई पोस्ट इसीलिए तो डालते हैं कि उसे सबलोग देख सकें। अगर आपकी भी यही सोच है तो फिर समझ लीजिए कि आपका भी नंबर आएगा। यानी आज…नहीं तो कल आपका भी फर्जी फेसबुक अकाउंट जरूर बनेगा और फर्जीवाड़ा भी होगा।

कैसे होता है फर्जीवाड़ा : अब आपको बताते हैं कि आखिर आपकी इस गलती से फर्जीवाड़ा कैसे किया जाता है। जैसे आपका फेसबुक प्रोफाइल लॉक नहीं है। यानी कोई भी आपके प्रोफाइल फोटो को देख सकत है और आपके फ्रेंड्स को भी। इसके बाद साइबर क्रिमिनल आपके फेसबुक से आपकी 10-15 फोटो को कॉपी कर लेते हैं। इसके बाद आपके नाम और प्रोफाइल फोटो के जरिए दूसरा फेसबुक अकाउंट बना लेते हैं। इसके बाद जो आपके असली प्रोफाइल में फ्रेंड्स उन्हें ही फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजने लगते हैं। ऐसे में आपके दोस्त नया फेसबुक अकाउंट समझकर फ्रेंडशिप भी कर लेते हैं। जब कुछ फ्रेंड्स नए फेसबुक प्रोफाइल में जुड़ जाते हैं तब ये मैसेंजर पर मैसेज कर इमरजेंसी बताते हुए पैसे मांगने लगते हैं और फर्जीवाड़ा करते हैं। इसलिए जरूरी है कि अपना प्रोफाइल हमेशा लॉक रखें।

गलती नंबर-2 : फेसबुक का पासवर्ड अपने नाम या फोन नंबर या फिर 123456 रखना

क्या आप भी अपने फेसबुक अकाउंट का आसान पासवर्ड रखते हैं। जिसे आसानी से याद कर सकें। जैसे 12345 या 123456। या फिर पासवर्ड वही रखते हैं जो आपका नाम है। या कई लोग ऐसे भी होते हैं जो अपना पासवर्ड अपना मोबाइल नंबर ही डाल लेते हैं। और फिर किसी पोस्ट या किसी के मांगने पर फेसबुक पर ही कमेंट करके अपना मोबाइल नंबर डाल देते हैं। ऐसे में साइबर क्रिमिनल आपके पोस्ट को देखकर सबसे पहले तो आपका मोबाइल नंबर का पता लगा लेते हैं। और फिर उसी नंबर के आधार पर आपके फेसबुक का पासवर्ड ट्राई करते हैं। अगर वही पासवर्ड निकला तो फिर क्या। आसानी से आपका फेसबुक यूज करने लगते हैं और आपके दोस्तों से पैसे मांगने लगते हैं। कई बार जब आपका पासवर्ड जान लेते हैं तो नया पासवर्ड बना लेते हैं और फिर आप सोचते हैं कि हमारा फेसबुक ही हैक कर लिया गया है। हाल में आई एक रिपोर्ट के अनुसार ज्यादातर लोग अपने अकाउंट का पासवर्ड 123456 या 654321 रखते हैं। इसके अलावा कई लोग तो अपने एरिया का पिन कोड ही पासवर्ड के रूप में डाल देते हैं। ऐसे पासवर्ड को आसानी से कोई भी जान लेता है और आपका अकाउंट हैक कर लेता है।

गलती नंबर-3 : जिस मोबाइल नंबर से फेसबुक अकाउंट बनाते हैं उस नंबर को हाइड नहीं करना

आजकल जब हम फेसबुक अकाउंट बनाते हैं तो उसके लिए मोबाइल नंबर की जरूरत पड़ती है। क्योंकि इसी नंबर पर वेरिफिकेशन के लिए फेसबुक की तरफ से OTP कोड आता है। आपका जैसे ही फेसबुक अकाउंट बन जाता है तो ऑटोमेटिक ये मोबाइल नंबर Facebook पर पब्लिक के लिए ओपन हो जाता है। यानी कोई भी आपके प्रोफाइल के साथ फोन नंबर भी देख सकता है। आपको ये भी बता दें कि जब भी कोई नया फेसबुक प्रोफाइल बनाता है तो ऑटोमेटिक तरीके से सभी डिटेल सार्वजनिक यानी पब्लिक के लिए हो जाती है। इसलिए नया फेसबुक प्रोफाइल बनाते ही अपने मोबाइल नंबर को हाइड जरूर कीजिये। अगर ऐसा नहीं करते हैं और इसी नंबर को पासवर्ड भी बना लेते हैं तो सोचिए साइबर क्रिमिनल के लिए आपने काम कितना आसान कर दिया? यही वजहें हैं जिसके चलते साइबर क्रिमिनल आसानी से आपके फेसबुक अकाउंट को हैक कर लेते हैं और फर्जीवाड़ा करते हैं।

इन स्टेप को ध्यान से समझ लीजिए, नहीं हैक होगा आपका फेसबुक अकाउंट

सबसे पहले जब आप फेसबुक लॉगिन करते हैं तो आपके प्रोफाइल फोटो के पास ही ये आइकन दिखता है।

इस आइकन को ध्यान से देखिए….यहीं से आपको प्राइवेसी सेटिंग्स में जाना है

Edit Profile के पास में ही तीन डॉट (…) पर Click करते ही आपको ये विंडो दिखेगा। इसमें नीचे लॉक प्रोफाइल (Lock Profile) दिख रहा है। इसे पहले लॉक कर दीजिए। इसके बाद आप सबसे आखिर में View Privacy Shortcuts पर क्लिक करें। इसे क्लिक करते ही आपको …See more privacy settings पर क्लिक करना है।

इस पर क्लिक करने से ऐसा विंडो दिखेगा..

इसमें आप देख रहे हैं कि आपके फेसबुक अकाउंट की सभी प्राइवेसी डिटेल पब्लिक के लिए ओपन है। यही वजह है कि आपके प्रोफाइल को कोई भी देखकर फर्जी अकाउंट बना लेता है। इसलिए इस सेटिंग्स को आप जरूर बदलें।

इसमें Your Activity में दिख रहा है कि who can See your future posts । इसमें पब्लिक है। यानी इसे कोई भी देख सकता है। इसलिए क्लिक करके इसे आप चाहें तो सिर्फ फ्रेंड्स के लिए कर सकते हैं। मतलब आप जो भी पोस्ट करेंगे वो सिर्फ फ्रेंडलिस्ट में शामिल लोग ही देख सकेंगे।

इस प्राइवेसी में सबसे जरूरी है आपकी फ्रेंडलिस्ट। who can see your Friends list? इसे जरूर आप चेंज करें। क्योंकि साइबर क्रिमिनल इसी फ्रेंडलिस्ट को देखकर आपके दोस्तों को मैसेज भेजकर पैसे मांगते हैं। इसे क्लिक करके पब्लिक के बजाय चाहें तो Friends या फिर Only me का ऑप्शन सेलेक्ट कर लीजिए। ये बहुत जरूरी है। इसके बाद एक और जरूरी ऑप्शन है। वो है who can look you up using the phone number you provided? इसे भी आप क्लिक करके Only me ही सेलेक्ट करें तो ज्यादा बेहतर है। क्योंकि कई बार आपके ऐसे फ्रेंड्स भी होते हैं जिन्हें आप जानते नहीं होते हैं। जो कभी भी मिसयूज कर सकते हैं।

इस तरह अगर आपने इन सेटिंग्स को भी कर लिया तो आपका फेसबुक अकाउंट पूरी तरह से सिक्योर हो जाएगा। इसके अलावा आप अपने अकाउंट के अलर्ट मैसेज को भी एक्टिव कर सकते हैं। अगर ऐसा कर लेते हैं तो जब कभी कोई दूसरे फोन या सिस्टम से आपका अकाउंट लॉगिन करेगा आपको तुरंत अलर्ट मैसेज मिल जाएगा।

#howtosecurefacebookaccount

#facebookparprivacykaiselagaen #facebookhackhotokyakare#facebookaccounthackhonesekaisebachaye#facebookhackhonesekaisebachaye
#facebookkohackhonesekaisebachayen #facebookidhackhonesekaisebachaye #fbaccounthackhonesekaisebachaye #facebookaccountidhackhonesekaisebachaye #fbidkohackhonesekaisebachaye#facebookhacked #howtosafefacebook #howtolockfbid

#howtosecurefacebookaccountfromhackers

#how to protect facebook account

#how to secure facebook account

#facebookkolockkaisekare #merafacebookhackhogaya

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here