Sunday, October 17, 2021
HomePolicy WatchTrueCaller की प्राइवेसी पॉलिसी का खतरनाक राज, जानिए कैसे आपके फोन डेटा...

TrueCaller की प्राइवेसी पॉलिसी का खतरनाक राज, जानिए कैसे आपके फोन डेटा को दुनिया भर में बेचा जा रहा है

TrueCaller एक कॉलर आइडेंटिफिकेशन सर्विस है। स्मार्टफोन यूज करने वाले ज्यादातर लोग आज इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। क्योंकि इसके जरिए किसी अज्ञात नंबर से कॉल आते ही हमें उसके नाम, लोकेशन और अन्य कई जानकारी मिल जाती है। इससे कई बार हमें फर्जी और स्पैम (Spam) नंबर के बारे में जानकारी भी देती है। इसलिए ये Spam Blocking सर्विस भी हमें देती है। इसे स्वीडिश कपनी True Software Scandinavia AB ने डेवलेप किया है। TrueCaller ऐप काफी सुविधाजनक है लेकिन इस सुविधा के पीछे का खतरनाक खेल जानेंगे तो आप दंग रह जाएंगे। क्योंकि Truecaller की प्राइवेसी पॉलिसी में ही ये स्पष्ट है कि इसे इंस्टॉल करते ही हमारे फोन के कॉन्टैक्ट्स समेत कई डिटेल कंपनी सर्वर के पास स्टोर हो जाती है। अब इस डिटेल को कंपनी चाहे तो दुनिया में कहीं भी किसी को बेच सकती है।

आखिर TrueCaller आपको ये जानकारी कैसे देता है

आपके पास किसी अज्ञात नंबर से कॉल आती है और आपने TrueCaller ऐप डाउनलोड किया है तो उसकी डिटेल मिल जाती है। अगर कोई लोन के लिए फोन कर रहा है तो कई बार उसपर Spam लिखा आता है। यानी उस नंबर को लोगों ने Spam करार दिया होता है। इसी तरह से किसी पुलिस अधिकारी से फोन आए तो नाम के साथ SHO या SP भी लिखा होता है जैसा कि उनकी पोजिशन होती है। ऐसा आखिर क्यों आता है? क्या TrueCaller ऐप ये खुद वेरिफाई करता है कि कौन सा नंबर Spam या है कौन सा नंबर सही। ऐसा बिल्कुल नहीं है। दरअसल, ये ऐप हमारे Phone Contacts में सेव नंबर से ही ये डिटेल हमें देता है। क्योंकि जिन नंबरों को ज्यादातर लोग जिस तरीके से सेव किए होते हैं उसे ही ये ऐप आपके फोन पर दिखाता है। जैसे कई बार आप देखते होंगे कि किसी नंबर को Papa या Bhai के नाम से भी दिखाता है। क्योंकि वो नंबर उसी नाम से किसी मोबाइल में सेव रहता है। अगर किसी नंबर को ज्यादातर लोग पुलिस के नाम से सेव करते हैं तो TrueCaller पर वो पुलिस के नाम से ही आता है।

ऐप इंस्टॉल करते ही Contacts सर्वर पर होते हैं सेव, 130 अरब से ज्यादा नंबर सेव

अगर आपने TrueCaller ऐप को इंस्टॉल करते हैं तो ये मोबाइल ऐप तुरंत आपके फोन में मौजूद सभी कॉन्टैक्ट्स (Contacts) को अपने सर्वर पर सेव कर लेता है। इसके बाद भले ही आप अपने फोन से TrueCaller ऐप को डिलीट कर दें या कुछ भी करें। आपके फोन के सभी कॉन्टैक्ट्स ऐप के सर्वर पर सेव ही रहेंगे। अब इन्हीं डिटेल की मदद से ये ऐप देश व दुनिया भर के नंबर की डिटेल देता है। अब जरा सोचिए कि आखिर True Caller के पास कितने नंबरों की डिटेल होगी। आप इसका अंदाजा भी लगा नहीं पाएंगे। वैसे कोई सटीक डेटा हमारे पास भी नहीं है। लेकिन हम आपको एक कैलकुलेशन समझाते हैं। इस समय True Caller ऐप पर चेक करने से पता चलेगा इसे 500 मिलियन से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है। 500 मिलियन का मतलब 5000 लाख। यानी 50 करोड़ लोगों ने डाउनलोड किया है। वैसे तो आजकल एक फोन में औसतन 500 या इससे ज्यादा ही नंबर लोग सेव करते हैं। लेकिन अगर हम मान लें कि एक स्मार्टफोन में औसत 200 नंबर भी सेव कर रखा होगा तो सोचिए कितने नंबर TrueCaller के पास स्टोर हो गए। 10000 करोड़ नंबर यानी 100 अरब। ये तो सिर्फ एंड्रॉयड फोन के औसत नंबर हैं। अगर iOS, BlackBerry, Windows और Symbian को भी मिला लें तो ये डेटा कहां पहुंच जाएगा। ये लगभग 130 अरब नंबर हो जाएंगे।

आपकी प्राइवेसी के लिए कैसे खतरनाक है TrueCaller ऐप

किसी मोबाइल ऐप को इंस्टॉल करने से पहले शायद ही उसके नियम व शर्तों को पढ़ने की हमारी आदत होती है। अगर हम नियम-शर्त को समझ भी गए तो कई बार उससे मिलने वाली सुविधा के सामने हम उसकी शर्तों को इग्नोर कर देते हैं। True Caller ऐप के नियम-शर्तों को भी हम ऐसे ही इग्नोर कर देते हैं। लेकिन आज जब आप इसकी सीक्रेट डिटेल जानेंगे तो दंग रह जाएंगे। आप सोच रहे होंगे कि ज्यादा से ज्यादा हमारे Contacts ही एक्सेस होते होंगे। लेकिन True Caller आपके Contacts के साथ ईमेल एड्रेस, लोकेशन, आईपी एड्रेस, आपकी डिवाइस, डिवाइस सेटिंग्स, सिमकार्ड यूजेज, कौन-कौन से ऐप्स का इस्तेमाल करते हैं…ये सबकुछ एक्सेस करता है। इसके अलावा आपके फोन के ऑपरेटिंग सिस्टम, कैसे ऐड देखते हैं, एडवरटाइजिंग आईडी, इंटरनेट ब्राउंजिंग हिस्ट्री, कॉल लॉग्स, इंटरनेट पर आप क्या सर्च करते हैं, आप क्या कंटेंट देखते हैं, क्या पसंद करते हैं और भी बहुत कुछ एक्सेस कर लेता है। जिसके बारे में आप सोच भी नहीं सकते हैं।

TrueCaller आपके डेटा को दुनिया में किसी को बेच सकता है

Truecaller Privacy Policy इसे ध्यान से पढ़िए…सबकुछ समझ जाएंगे

TrueCaller की प्राइवेसी पॉलिसी को आपने कभी नहीं पढ़ा। तो आज पढ़िए। आप देखेंग कि उसमें साफ-साफ लिखा है कि Truecaller will Transfer, process and Store personal information in a number of countries, including but not limited to india. यानी ये कह सकते हैं कि True Caller अपने यूजर्स के डेटा को किसी भी थर्ड पार्टी कंपनी या किसी भी देश को शेयर कर सकती है। यहां शेयर करने का मतलब है कि ये कंपनी आपके किसी भी डेटा को दुनिया में किसी को भी बेच सकती है। और आप इसका विरोध नहीं कर सकते हैं। क्योंकि आप इसके नियम-शर्तों को खुद ही अनुमति दे रहे हैं।

बिना ऐप डाउनलोड किए TrueCaller का ऐसे करें इस्तेमाल?

आजकल जिस तरह से फ्रॉड कॉल या स्पैम कॉल आती हैं तो उसके बारे में जानने के लिए True Caller ऐप बहुत मददगार है। इस तरह देखा जाए तो True Caller ऐप हमारी जरूरत भी है। लेकिन इसके लिए अपना सारा डेटा देना कहां तक सही है? इसलिए आप चाहे तो इसके विकल्प के तौर पर True Caller Website का इस्तेमाल करें। इसके लिए जिस ईमेल आईडी में आपके Contacts सेव हैं उस ईमेल का इस्तेमाल ना करें। इसके बजाय एक नई ईमेल आईडी बनाकर उससे True Caller वेबसाइट का प्रयोग करें जिससे आपका कोई भी डेटा चोरी नहीं हो सकेगा।

साइबर क्रिमिनल TrueCaller ऐप की मदद से कैसे कर रहे हैं फ्रॉड, जानिए

अक्सर आपके पास किसी अंजान नंबर से फोन आता है और कॉल करने वाला आपका नाम लेकर बुलाता है। इसेक साथ ही कई बार आपके शहर या गांव का नाम भी बता देता है तो आप उस पर तुरंत भरोसा कर लेते हैं। इसके बाद वो बातों में उलझाकर आपके एटीएम कार्ड या बैंक खाते को ब्लॉक करने की बात कहकर डिटेल मांगकर ठगी करता है। दरअसल, आजकल साइबर क्रिमिनल True Caller पर ऐप पर जाकर रैंडम किसी नंबर को डालकर आपकी डिटेल जान लेते हैं। जैस उदाहरण के लिए हमने True Caller पर एक नंबर डाला… 98387**898.. अब ये नंबर किसी के नाम पर है। इसी तरह साइबर क्रिमिनल आखिरी कुछ डिजिट को बदल-बदलकर लोगों के नाम और उनकी डिटेल चेक कर लेते हैं। इस तरह नंबरों के नाम की डिटेल मिल जाती है और फिर साइबर क्रिमिनल उन्हें फोन कर झांसे में लेकर ठगी करते हैं।

मैं अपने नंबर को TrueCaller से कैसे Unlist करूं

#howtounlistnumberfromtruecaller

आप True caller ऐप का इस्तेमाल करें या ना करें, लेकिन आपका नंबर इस ऐप पर आ रहा है। ऐसा होने की पूरी संभावना है। क्योंकि आपका नंबर आपके दोस्त या परिवार के लोगों में सेव हैं और किसी ना किसी के पास True Caller ऐप जरूर इंस्टॉल होगा। इसलिए अगर आप चाहते हैं कि आपका नंबर True Caller पर नहीं शो हो। तो आप उसे इस तरह से Unlist कर सकते हैं। इसके लिए आपको सबसे पहले इस लिंक पर क्लिक करना होगा। how to unlist number from TrueCaller

how to unlist number from Truecaller

इस पर क्लिक करते ही आपको ये विंडो मिलेगा। यहां आपको सबसे पहले अपने Country Code +91 को जरूर डालें। फिर अपना मोबाइल नंबर डालना होगा। उसके बाद Captcha भरकर  Unlist Phone Number के बटन दबाना है। Unlist बटन को दबाने के बाद एक मैसेज आएगा। जिसमें लिखा होगा कि 24 घंटे में आपका नंबर अनलिस्ट हो जाएगा।

Sunil Maurya
Deputy Editor. The420.in I am an Investigative Journalist. I Have Authored a Book on Aarushi-Hemraj murder mystery-कातिल जिंदा है, एक थी आरुषि. Earlier I was Producer in Zee News DNA Team, I Have Worked for several leading publications like Nav Bharat Times, Dainik Bhaskar, Dainik Jagran, Sahara

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments