Saturday, November 27, 2021
Homeक्राइमएक ट्रक से 7 करोड़ के मोबाइल लूट, जांच में जुटी दो...

एक ट्रक से 7 करोड़ के मोबाइल लूट, जांच में जुटी दो राज्यों की पुलिस

मथुरा: उत्तर प्रदेश में अपराधिक घटनाएं बढ़ती ही जा रही है। हर दिन लूट, मर्डर, साइबर क्राइम जैसे मामले सामने आ रहे है। मथुरा में ऐसा ही एक मामला समाने आया है। जहां एक ट्रक से लोगों ने 7 करोड़ का माल लेकर फरार हो गए। वह ट्रक मोबाइल से भरा हुआ था। इस घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंची और शिकायत दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर दी है।


यह पूरा घटना 5 अक्टूबर के रात की है। ग्वालियर बाइपास से दो बदमाशों सवारी बनकर एक ट्रक में घुस गए और जिसके बाद ट्रक से 7 करोड़ के मोबाइल लेकर फरार हो गए है। बताया जा रहा है कि इस ट्रक में ओप्पो (Oppo) और रियल मी (Realme)के मोबाइल जा रहे थे। इस घटना की शिकायत ओप्पो मोबाइल फोन के मैनेजर ने पुलिस थाने में दर्ज करा दी है। मामला इतना गंभीर है कि यूपी और मध्य प्रदेश की पुलिस दोनों मिलकर इस घटना की जांच में जुट गई है। इस मामले में एडीजी आगरा जोन राजीव कृष्ण ने मामले को गंभीरता से लेने के निर्देश भी दिए है।


ओप्पो कंपनी के मैनेजर सचिन मानव ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, जिसमें कहा गया कि फर्रुखाबाद जिले के मानिकपुर गांव निवासी चालक मुनीष यादव ट्रक लेकर पांच अक्टूबर की सुबह सात बजे ग्रेटर नोएडा से बेंगलुरू के लिए निकला था। फरह थाना क्षेत्र के ग्वालियर बाइपास से दो लोग सवारी बनकर कैंटर में बैठ गए।

पांच अक्टूबर की ही रात करीब 10 बजे बबीना (झांसी) टोल क्रास करने के बाद बदमाशों ने चालक मुनीष के सिर पर चादर डाल दी और तमंचे की बट से प्रहार कर उसको घायल करने के बाद बंधक बना लिया था जिसके बाद ट्रक से सारे मोबाइल लेकर भाग गए।


सचिन मानव ने कहा कि कैंटर में रियलमी और ओप्पो कंपनी के 8,990 मोबाइल फोन थे। यह बदमाश खाली कैंटर सोमरसा क्षेत्र में ही छोड़कर भाग गए। कैंटर अभी मानपुर पुलिस के कब्जे में है। इस घटना की शुरुआत फरह थाने से होने के कारण मानपुर में रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। शुक्रवार को सचिन की तहरीर पर पुलिस ने लूट की रिपोर्ट दर्ज की।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments