Sunday, August 14, 2022
Homeक्राइमहार्ड क्राइम के बाद उत्तर प्रदेश में Cyber Crime पर भी कसा...

हार्ड क्राइम के बाद उत्तर प्रदेश में Cyber Crime पर भी कसा जाएगा शिकंजा, सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिये निर्देश

उत्तर प्रदेश में संगीन अपराधों (Crime) पर अंकुश लगाने वाली योगी सरकार अब साइबर क्राइम (Cyber Crime) को रोकने के लिए जोर शोर से काम शुरू करेगी। इसके निर्देश प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने पुलिस विभाग को दिये हैं। सीएम ने पुलिस विभाग से साइबर सुरक्षा (Cyber Security) के बुनियादी ढांचे को बढ़ाने के लिए कहा कहा है।

जोन स्तर पर बनानी चाहिए फॉरेंसिक लैब
प्रदेश में अपराधियों को काबू करने वाली पुलिस को सीएम योगी आदित्यनाथ (Cm Yogi aadtiyanath) ने साइबर अपराधियों पर नकेल कसने के आदेश दिये। उन्होंने कहा कि साइबर अपराध को रोकना बहुत जरूरी है। सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में जोन स्तर पर साइबर फॉरेंसिक लैब स्थापित की जानी चाहिए। साथ ही साइबर पुलिस थानों को पूरे व्यवस्थित तरीके से काम करना चाहिए। सीएम ने कहा कि देश में उत्तर प्रदेश सबसे ज्यादा आबादी वाला राज्य है। इतना ही नहीं प्रदेश के पास सबसे ज्यादा इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं के निर्माण और क्षमताओं का पता लगाने का एक बेहतरीन मौका है।

हर थाने में बनाए जाएंगे महिला साइबर सेल
सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश में साइबर स्टॉकिंग से लेकर साइबर बुलिंग जैसे मामलों से निपटने के लिए सरकार ने राज्य के हर थाने में महिला साइबर सेल बनाने का फैसला किया है। वहीं बता दें कि नोएडा, लखनऊ, आगरा, अलीगढ़, सहारनपुर, प्रयागराज, बरेली, मुरादाबाद और गोरखपुर सहित विभिन्न शहरों में 18 साइबर पुलिस स्टेशन हैं। जिनमें नोएडा और लखनऊ स्थित साइबर थानों की शुरुआत आज से 4 साल पूर्व यानि 2018 में की गई थी। जबकि अन्य 16 साइबर थानों की शुरुआत पिछले साल अगस्त में की गई है। प्रदेश में स्थित सभी 18 साइबर पुलिस स्टेशन जिला पुलिस के अंडर में नहीं आते हैं। यह सीधे लखनऊ में रिपोर्ट करते हैं।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments