एप के माध्यम से 250 करोड़ की ठगी करने वाले गिरोह का भंड़ाफोड़, गैंग का एक सदस्य गिरफ्तार

एप के माध्यम से 250 करोड़ की ठगी करने वाले गिरोह का भंड़ाफोड़, गैंग का एक सदस्य गिरफ्तार
एप के माध्यम से 250 करोड़ की ठगी करने वाले गिरोह का भंड़ाफोड़, गैंग का एक सदस्य गिरफ्तार

उत्तराखंड एसटीएफ ने मंगलवार को एप के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ठगी करने वाले गिरोह के एक सदस्य को नोएडा से गिरफ्तार किया है।  गूगल प्ले स्टोर पर भी यह एप मौजूद है। इसका नाम पावर बैंक है। गिरोह इसके माध्यम से लोगों को 15 दिन में पैसा दोगुना करने के नाम पर निवेश करवाता है और उन्हें ठगता था। गिरफ्तार शख्स के पास से 19 लैपटाप, 592 सिम कार्ड, पांच मोबाइल फोन, चार एटीएम कार्ड और एक पासपोर्ट बरामद हुआ है। पुलिस के अनुसार यह गिरोह लोगों से निवेश कर पैसे दोगुना करने का लालच देकर अब तक 250 करोड़ से ज्यादा की ठगी कर चुका है।

एडीजी अभिनव कुमार के अनुसार साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में श्यामपुर हरिद्वार के रहने वाले रोहित कुमार गोयल और कनखल हरिद्वार के रहने वाले राहुल कुमार की शिकायत पर एसटीएफ जांच में जुट गई। उन्होंने बताया कि 15 दिन में दोगुनी रकम के लिए 91,200 और 73,000/ रुपये जमा किया, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। जांच में पता चला कि इस एप और बैंक खातों के माध्यम से प्रतिदिन करोड़ों का लेन-देन किया गया है, जिसका संचालन नोएडा का निवासी पवन कुमार पांडेय कर रहा है, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है।  इस एप को 50 लाख लोग डाउनलोड कर चुके हैं।

इस बीच चेन्नई में एक युवती से पावर बैंक एप के माध्यम से ठगी का एक मामला सामने आया है। एप पर युवती को घर बैठे प्रति घंटे के हिसाब से कमाई का लालच दिया गया था। लाखों की ठगी के बाद यह एप बंद हो गया। जानकारी के अनुसार युवती ने एप पर एड देखकर पांच लाख रुपये निवेश किए थे। नेरकुंड्रम की रहने वाली महिला ने कोयम्बेडु पुलिस में सोमवार रात को शिकायत दर्ज कराई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here