Friday, August 19, 2022
Homeक्राइमWhatsApp से सेना की साइबर सुरक्षा में सेंध, सैन्य अधिकारियों पर पड़ोसी...

WhatsApp से सेना की साइबर सुरक्षा में सेंध, सैन्य अधिकारियों पर पड़ोसी देश के लिए जासूसी करने आरोप, उच्च स्तरीय जांच जारी

खुफिया एजेंसियों ने भारतीय सेना की साइबर सिक्योरिटी में सेंध (Cyber Security Breach) का खुलासा किया है। सैन्य अधिकारियों पर इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप (WhatsApp) से किसी पड़ोसी देश के लिए जासूसी जैसी गतिविधयों में शामिल होने का आरोप लगा है। मामले की उच्च स्तरीय जांच (high-level probe) चल रही है।

साइबर सिक्योरिटी ब्रीच (Cyber Security Breach) के मुद्दे पर समाचार एजेंसी एएनआई (NIA) के एक सवाल के जवाब में रक्षा सूत्रों ने कहा, “सैन्य और खुफिया एजेंसियों ने कुछ सैन्य अधिकारियों द्वारा साइबर सिक्योरिटी ब्रीच का पता लगाया है। इसके एक पड़ोसी देश के जासूसी से संबंधित गतिविधियों से जुड़े होने की संभावना है। कुछ व्हाट्सएप ग्रुप्स (WhatsApp groups) पर ब्रीच की सूचना दी गई है। ”

आरोपों का सामना कर रहे अधिकारियों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई के मुद्दे पर सूत्रों ने कहा, ‘ तुरंत जांच के आदेश दिए गए हैं, जो अभी जारी है। ऑफिशियल सिक्रेट एक्ट ( Official Secrets Act) के तहत सैन्य अधिकारियों द्वारा मौजूदा आदेशों के उल्लंघन, विशेष रूप से खुफिया मामलों में शामिल होने पर सख्ती से निपटा जाता है। सूत्रों ने बताया कि चल रही जांच में दोषी पाए जाने वाले सभी अधिकारियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

मामले में और जानकारी देने के लिए कहने पर रक्षा सूत्रों ने कहा, “इसमें शामिल संवेदनशीलता और जांच की प्रकृति के कारण हम किसी भी अटकलों बचेंगे या इसमें शामिल कर्मियों की जानकारी नहीं देंगे। इससे चल रही जांच प्रभावित होगी।”

हाल के दिनों में, संदिग्ध पाकिस्तानी और चीनी खुफिया गुर्गों ने सेना और उसकी गतिविधियों पर संवेदनशील जानकारी हासिल करने के प्रयास में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म (social media platforms) पर सैन्य कर्मियों के साथ जुड़ने का प्रयास किया है। हालांकि, वे अपने अधिकांश प्रयास में विफल हो जाते हैं, लेकिन वे कुछ सैन्य कर्मियों से जानकारी निकालने में सक्षम होते हैं ,जो उनके जाल में फंस जाते हैं।

अधिकारियों को समय-समय पर ऐसे मामलों को रोकने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग करते समय मानक संचालन प्रक्रियाओं और दिशानिर्देशों (standard operating procedures and guidelines) का पालन करने के लिए कहा जाता है।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments