Friday, August 12, 2022
Homeक्राइमझारखंड : जामताड़ा के साइबर अपराधियों को SIM सप्लाई कराने वाला ओडिशा...

झारखंड : जामताड़ा के साइबर अपराधियों को SIM सप्लाई कराने वाला ओडिशा का शिक्षक गिरफ्तार

देशभर में साइबर ठगी का आतंक फैलाने वाले झारखंड के जामताड़ा साइबर अपराध गैंग में शामिल ओडिशा का एक शिक्षक को गिरफ्तार किया गया है। बालेश्वर एफएम आइटीआइ कालेज के पूर्व शिक्षक दीपक कुमार साहू को कटक कमिश्नरेट पुलिस की साइबर थाना टीम ने गिरफ्तार किया है।

बालेश्वर बलियापाल थाना अंतर्गत श्रीरामपुर ग्राम पंचायत नेपुरा गांव का दीपक पिछले पांच साल से जमताड़ा गैंग को बालेश्वर और बारीपदा इलाके में सिम कार्ड मुहैया कराता आ रहा था। साथ ही स्वयं को बैंक अधिकारी बताकर ग्राहकों को फोन करना और रुपये लूट जैसे संगीन मामले भी उसके खिलाफ दर्ज हैं।

बालेश्वर में भी जामताड़ा शैली में एक काल सेंटर चलाने का संदेह पुलिस जता रही है। पुलिस के मुताबिक रेवेंशा विश्वविद्यालय के अतिथि अध्यापक डॉ. जयदेव जेना के बैंक अकाउंट से 28 फरवरी को तीन लाख 99 हजार 996 रुपये उड़ा लिए गए थे। उसके पीछे जामताड़ा साइबर अपराधी गैंग का हाथ होने की बात प्राथमिक जांच में साइबर टीम को पता चला था।

17 मार्च को बालेश्वर बस्ता में जियो के मैनेजर शंकर दास अधिकारी एवं असिस्टेंट मैनेजर सुशांत कुमार बेहरा को पहले गिरफ्तार कर पूछताछ की गई थी। इसके बाद इस काले धंधे में लिप्त होने वाले दीपक को कटक कमिश्नरेट पुलिस की साइबर टीम ने रविवार को गिरफ्तार किया।

कोलकाता का एक युवक हर सप्ताह ट्रेन या बस से बालेश्वर आकर दीपक के पास से हर एक सिम को 230 से 250 रुपये में खरीद कर ले जा रहा था। जो युवक दीपक से सिम कार्ड खरीद रहा था, उसका साइबर अपराधियों को लेकर एक काल सेंटर था।

दीपक खुद भी बालेश्वर में रहकर साइबर ठगी करता था। खुद का एक काल सेंटर खोलकर अपराध को वर्ष 2017 से अंजाम देता आ रहा था, यह बात पुलिस छानबीन में सामने आई है। बैंक ग्राहकों को किस तरह से फोन कर रुपये ठगी की जाएगी, इस बारे में जामताड़ा साइबर अपराधी गैंग ने दीपक को ऑनलाइन के जरिए प्रशिक्षण भी दिया था।

दीपक के पास से साइबर पुलिस को 36 एटीएम कार्ड, 11 मोबाइल फोन, नकद एक लाख आठ हजार 980 रुपये, एक हार्ड ड्राइव, 4 पेन ड्राइव, एक लैपटाप, 116 सिम कार्ड आदि बरामद किए हैं। दीपक के पास से बरामद एटीएम कार्ड में से पांच उसी के नाम पर है, जबकि बाकी के एटीएम कार्ड किसके नाम पर है। इसका पता नहीं चल पाया है।

साइबर थाना प्रभारी चंद्रिका स्वाई के साथ एसआई देवी प्रसाद साहू, कांस्टेबल अनिल कुमार दास, सौम्य रंजन सुंदरराय प्रमुख को लेकर गठित टीम ने दीपक को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा एक टीम झारखंड जाकर जमताड़ा गैंग लिंक के बारे में अधिक छानबीन करेगी।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments