Wednesday, January 26, 2022
Homeक्राइमUSA: DarkSide Ransomware गिरोह के संचालकों पर इनाम की घोषणा, जानकारी देने...

USA: DarkSide Ransomware गिरोह के संचालकों पर इनाम की घोषणा, जानकारी देने वालों को मिलेंगे Rs 75 Crore

नई दिल्ली: भारत ही नहीं पूरे विश्व में साइबर क्राइम के मामले बढ़ते ही जा रहे है। जिसको देखते हुए सभी देश अलर्ट है। वहीं अमेरिका में मई के महीन में बड़ी ईंधन पाइपलाइन हुए सबसे बड़े साइबर हमले के मामले पर रूस में स्थित डार्कसाइड DarkSide साइबर अपराध गिरोह के प्रमुख पर $10 मिलियन इनाम की घोषणा की है। डार्कसाइड के संचालकों की जानाकारी देने वाले व्यक्ति को $10 मिलियन ( Rs 74.35 करोड़) दी जाएगी।


एफबीआई (FBI) की जानकारी के अनुसार डार्कसाइड नाम के साइबर गिरोह ने मई के महीने में औपनिवेशिक पाइपलाइन पर हमला किया था। जिसके परिणामस्वरूप संयुक्त राज्य अमेरिका के दक्षिणपूर्व में गैस की कीमतों, घबराहट की खरीद, और स्थानीय गैसोलीन की कमी में वृद्धि हुई। इसके अलावा, विदेश विभाग ने किसी भी देश में डार्कसाइड रैंसमवेयर के प्रकोप में भाग लेने का प्रयास करने वाले किसी व्यक्ति की गिरफ्तारी या दोषसिद्धि के लिए अग्रणी जानकारी के लिए $ 5 मिलियन के पुरस्कार की पेशकश की।

इसके साथ ही सरकार ने यह भी दावा किया कि यह पुरस्कार देकर, संयुक्त राज्य अमेरिका साइबर आपराधिक हमले से दुनिया भर में रैंसमवेयर पीड़ितों की रक्षा करने के लिए अपनी प्रतिबद्धता प्रदर्शित करता है। औपनिवेशिक पाइपलाइन ने बताया कि उसने अपने सिस्टम तक पहुंच को पुनः प्राप्त करने के लिए हैकर्स को बिटकॉइन में लगभग $ 5 मिलियन का भुगतान किया। अमेरिकी न्याय विभाग ने जून में लगभग 2.3 मिलियन डॉलर की फिरौती एकत्र की।

आपको बता दें कि जुलाई के महीन में स्टेट डिपार्टमेंट ने किसी विदेशी सरकार के निर्देशन में या अधिकार के तहत काम करते हुए संयुक्त राज्य में महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे के खिलाफ शत्रुतापूर्ण साइबर संचालन में भाग लेने वाले किसी भी व्यक्ति की पहचान या स्थान की जानकारी के लिए $ 10 मिलियन के इनाम की घोषणा की।
इससे पहले ईरान में कई साइबर हमले हो चुके हैं, जिनमें से एक जुलाई में हुआ था जब परिवहन मंत्रालय की वेबसाइट को “साइबर व्यवधान” के कारण बंद कर दिया गया था। ईरान साइबर हमलों के लिए हाई अलर्ट पर होने का दावा करता है, जिसके लिए उसने ऐतिहासिक रूप से अपने कट्टर-दुश्मनों – अमेरिका और इज़राइल को दोषी ठहराया है।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments