Sunday, January 29, 2023
Homeक्राइमसावधान: मोबाइल फ़ोन अगर हो गया चोरी या लग गया किसी साइबर...

सावधान: मोबाइल फ़ोन अगर हो गया चोरी या लग गया किसी साइबर अपराधी के हाथ, तो हो सकते है आप कई तरह के साइबर अपराध के शिकार

मनीष सिंह: ऐसा किसी के साथ भी हो सकता है. आप कही घुमने गए हो और थोड़ी देर बाद अचानक आपका हाथ आपकी जेब में जाता है तो आपके होश उड़ जाते हैं की मोबाइल फोन गायब है.शातिर मोबाइल चोर पलक झपकते आपका फोन गायब कर सकते हैं. फोन चोरी होने के साथ ही आपके प्राइवेट डॉक्यूमेंट, बैंक खाते की जानकारी, मेसेज, फोटो और सवेंदनशील (Sensitive/Confidential) डेटा भी किसी चोर या साइबर अपराधी के पास पहुँच जाते है.

आइये जानते है अगर आपका चोरी हुआ फ़ोन किसी साइबर अपराधी के हाथ लग गया तो आपके फ़ोन के डेटा का इस्तेमाल करके कौन कौन से साइबर अपराध को अंजाम दे सकता है.

1-मैसेज या कॉल करके पैसे की मांग- आपके परिवार, रिश्तेदार या दोस्तों को WhatsApp Contact, Facebook Friend list, Instagram Followers से डिटेल्स निकालकर उन्हें मेडिकल इमरजेंसी या अन्य कारण बताकर उनसे मोटी रकम मंगवा सकता है. आपके ही  WhatsApp और फेसबुक आईडी से मैसेज जायेगा तो लोग उसे सही समझ कर तुरंत पैसे उसके द्वारा बताये गए खाते में ट्रान्सफर कर देंगे.

2-पासवर्ड चेंज और एक्टिव Two Factor Authenticationआपके फ़ोन में इंस्टाल सोशल मीडिया ऐप्स (Whatsapp, Facebook, Instagarma Etc.), ईमेल (E-Mail), ईवॉलेट (PhonePay, PayTm Etc.), मोबाइल बैंकिंग ऐप्स और अन्य उपयोगी ऐप्स का पासवर्ड बदल सकते है और बाद में आप इसे चेंज न कर सके इसके लिए इन सभी ऐप्स पे Two Factor Authentication भी लगा सकते है.

3- ई-वॉलेट और मोबाइल बैंकिंग ऐप्स से पैसा ट्रान्सफर- आपके फ़ोन में इंस्टाल मोबाइल बैंकिंग ऐप्स PhonePay, PayTm, SBI Yono व् फ़ोन में पड़े प्राइवेट डाक्यूमेंट्स का इस्तेमाल कर आपका सभी बैंक खाता टेकओवर कर आपका बैंक खाता खाली कर सकते है.

4-गूगल डैशबोर्ड (Google Dashboard) और My Activity एक्सेस- आपका  फ़ोन आपकी गूगल ईमेल आईडी से लॉग इन होता है जो आपके फ़ोन की सारी एक्टिविटी (Location History, Search History, Mobile Apps Activity) को रिकॉर्ड करता है. साइबर अपराधी आपके चोरी हुए फ़ोन के गूगल डैशबोर्ड (Google Dashboard) और My Activity एक्सेस कर आपकी ये सभी डिटेल्स को आसानी से पता कर सकता है.

5-ईमेल या Whatsapp मेसेज पढ़कर नुकसान पहुचना – साइबर अपराधी Email और whatsapp मैसेज पढ़कर आपके Official/Comercial कामों में दखल दे सकते है और आपके बॉस, ऑफिस, कंपनी या आपकी नौकरी को लेकर  मेल/मैसेज कर काफी नुकसान पहुंचा सकते है .

 6-फोटो, विडियो और प्राइवेट डॉक्यूमेंट प्राप्त कर ब्लैकमेल-  आपके फ़ोन में सेव फोटो, विडियो और प्राइवेट डॉक्यूमेंट को लेकर अपराधी  आपको ब्लैकमेल कर सकता है उसके जरिये आपसे कोई गलत कम करा सकता है और आपसे मोटी रकम भि वसूल कर सकता है.

7-सोशल मीडिया पर फर्जी आईडी बनाकर वायरल करना- साइबर अपराधी  आपके फ़ोन में सेव पर्सनल फोटो को मॉर्फ़ कर सोशल मीडिया पर फर्जी आईडी बनाकर वायरल कर सकते है और आपको समाज में बदनाम कर सकते है.

सावधानी, अगर आपका स्मार्ट फोन चोरी हो गया, तो घबराएं नहीं! ऐसे करें अपना अहम डेटा डिलिट

अगर आपका स्मार्ट फोन चोरी हो जाता है तो घबराएं नहीं मोबाइल फोन चोरी हो जाने पर भी आपके डेटा को कोई एक्सेस नहीं कर पाएगा. बस आपको इस ट्रिक को अपनाना होगा.  आप उस मोबाइल से डेटा को ऑनलाइन डिलीट कर सकते हैं. फोन आपसे दूर होने पर भी आप डेटा डिलीट कर सकते हैं.

ऐसे करें डेटा डिलिट

  • डेटा डिलीट करने के लिए सबसे पहले किसी भी कंप्यूटर या फोन में इंटरनेट ब्राउजर खोलें.
  • अपने इंटरनेट ब्राउज़र पर https://www.google.com/android/find टाइप करें.
  • फिर आपको फोन में gmail आईडी से लॉग इन करना होगा, जो उस खोए हुए या चोरी हुए स्मार्टफोन में भी है.
  • आपको तीन विकल्प दिखाई देंगे, प्ले साउंड, सिक्योर डिवाइस और इरेज़ डिवाइस.
  • यह फोन से डेटा हटाने के लिए ERASE DEVICE विकल्प दिखाएगा.
  • ERASE DEVICE सेलेक्ट करने के बाद आपको gmail का पासवर्ड डालना होगा.
  • अगर उस खोए हुए या चोरी हुए फोन का इंटरनेट चालू है, तो सारा डेटा डिलीट हो जाएगा

साइबर अपराध घटित होने पर तत्काल साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर 1930 पर कॉल करे या साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल www.cybercrime.gov.in पर online शिकायत दर्ज करे.

मनीष सिंह, साइबर क्राइम थाना आजमगढ़
मनीष सिंह, साइबर क्राइम थाना आजमगढ़

मनीष सिंह, साइबर क्राइम थाना आजमगढ़

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments