Friday, August 19, 2022
Homeक्राइम'आजादी का अमृत महोत्सव' के तहत यूपी में चलाई गई साइबर क्राइम...

‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत यूपी में चलाई गई साइबर क्राइम से आजादी की मुहिम

अनीशा कुमारी: ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत यूपी पुलिस मुख्यालय व सभी 18 साइबर क्राइम थानों में साइबर क्राइम से आजादी का पाठ पढ़ाया गया। साइबर क्राइम को लेकर जागरुकता और बचाव के रास्ते बताए गए। केंद्रीय गृह मंत्रालय व संस्कृति मंत्रालय के तत्वावधान में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इसकेतहत साइबर क्राइम यूपी की तरफ से साइबर क्राइम से आजादी विषय पर पुलिस मुख्यालय व 18 परिक्षेत्रीय साइबर क्राइम थानों में  एक दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

यूपी साइबर क्राइम के एसपी प्रो. त्रिवेणी सिंह ने बताया कि कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की वन्दना व दीप प्रज्वलन कर किया गया।  कार्यक्रम में सबसे पहले विशिष्ट अतिथि पद्मश्री मालिनी अवस्थी ने लोकगीत के माध्यम से साइबर क्राइम को लेकर जागरूक किया। इसके बाद वीमेन पावर लाइन 1090 के सदस्यों द्वारा साइबर जागरुकता का नुक्कड नाटक प्रस्तुत किया गया । इसी क्रम में संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार व नेशनल स्कूल आफ ड्रामा के कलाकारों ने भी नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को साइबर अपराध को लेकर जागरूक किया गया।

इस कार्यशाला में साइबर अपराध को रोकने के लिए प्रदेश के विभिन्न जनपद के पुलिस अधिकारियों को भी साइबर अपराध की रोकथाम की जानकारी दी गई। इाईआईटी कानपुर के प्रोफेसर संदीप शुक्ला ने क्रिप्टो करेंसी, धीरज गौड़ ने डार्कवेब, अमित दुबे ने वीओआईपी/इंटरनेट कॉल,मोइन शेख ने साइबर फॉरेंसिक, संदीप ठाकुर ने बैंकिंग फ्रॉड, के बारे में टिप्स दिए। इसके साथ ही अपराध में विवेचना व साक्ष्य संकलन के संबंध में भी जानकारी दी गई। वहीं अमित रोहन सक्सेना ने  साइबर अपराध रोकथाम व विवेचना में आउट सोर्सिंग टूल के प्रयोग के बारे में बताया।

इस कार्यशाला में विभिन्न संस्थानों के छात्र, विभिन्न संस्थानों के शिक्षाविद, बैंकों के अधिकारी, वित्तीय मध्यस्थ, दूरसंचार सेवा प्रदाता, गैर सरकारी संगठनों, साइबर सुरक्षा पुलिस कर्मी और प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रतिनिधि भी शामिल थे। इस पूरे कार्यक्रम के आयोजन का दायित्व यूपी के साइबर क्राइम एसपी प्रो. त्रिवेणी सिंह, पूजा यादव और अपर पुलिस अधीक्षक सच्चिदानंद ने निभाया।

सभी परिक्षेत्रीय साइबर क्राइम थाना की तरफ से चलाया अभियान

इस कार्यक्रम के तहत सभी 18 परिक्षेत्रीय साइबर क्राइम थानों में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। सभी साइबर क्राइम थानों की तरफ से गांवों, कॉलोनियों, चौराहों, स्कूलों और कॉलेजों में जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किए गए और राज्य भर में प्रत्येक थाने स्तर पर एनसीआरपी और साइबर हेल्प लाइन नम्बर 1930 के बारे में जागरूक करने के लिए पोस्टर और स्टिकर वितरित किए गए ।

परिक्षेत्रीय साइबर क्राइम थाना और स्थानीय पुलिस के सहयोग से पोस्टर/स्टीकर को आम जनता तक पहुंचाने के लिए ऑटो, बस स्टेशन और प्रमुख सार्वजनिक स्थानों पर चिपकाया गया। इस कार्यक्रम में अपर पुलिस माहनिदेशक साइबर क्राइम, यूपी सुभाष चंद्र, केंद्रीय गृह मंत्रालय के उप सचिव शैलेन्द्र सिंह, आईआईटी कानपुर के साइबर विशेषज्ञ प्रोफेसर संदीप शुक्ला, साइबर विशेषज्ञ अमित दुबे, धीरज गौड़, मोईन शेख, संदीप ठाकुर व अमित रोहन सक्सेना उपस्थित थे।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments