Tuesday, August 16, 2022
Homeक्राइमFACT CHECK: वायरल वीडियो में दावा किया गया है कि बच्चा पैसे...

FACT CHECK: वायरल वीडियो में दावा किया गया है कि बच्चा पैसे चुराने के लिए FASTag स्कैन कर रहा है, जानिए पूरा सच

आज एक वीडियो देखा, उसमे 2 नवयुवक car में बैठे हैं, तभी एक लड़का उनकी car का windscreen साफ करने आता है| वो bonnet पर चढ़ जाता है, फिर हाथ में पहनी हुई घड़ी दिखाता है| इतने में एक लड़का शोर मचाने लगता है… पकड़ो पकड़ो.

वो बच्चे को नहीं पकड़ पाते| बाद में ड्राइव कर रहा युवक बताता है कि ये नया scam है, जिसमें एक gang छोटे बच्चो को High Tech घड़िया दे देता है फिर वो बच्चे आपकी car कि सफाई करने का बहाना मार कर आपके FASTag को अपनी घड़ी से scan कर लेते हैं.. और आपका wallet खाली हो जाता है.

Social media की मेहरबानी से ये वीडियो पूरी दुनिया में वायरल हो रहा है| लोग बिना जानकारी इसे फैला रहे हैं.. और बेवजह डर रहे हैं|

इसका एक ही शब्द में अगर सच जानना है  तो वो यह है की ये वीडियो ‘Fake’ बनाया हुआ है ऐसा कोई FASTag scam नहीं होता.

अब आप पूछेंगे कि ऐसा कैसे???

पहले आप Technology को समझिये|

आपकी गाड़ी में एक Fast Tag लगा होता है| उसमे एक छोटी सी  RFID Chip होती है, एक antenna होता है| बहुत छोटा होता है, Tag की दोनों layers के बीच में होता है| इस chip में आपकी गाड़ी की जानकारी होती है और back end से आपका NHAI wallet, Paytm Wallet या आपकी Bank के account की जानकारी इसमें Coded होती है.

दूसरे छोर पर होता है NHAI, जो आपसे Toll वसूलता है| हर टोलप्लाजा पर एक scanner होता है जो आपके गाड़ी के FASTag को स्कैन करके Payment वसूलता है|

जाहिर है Payment NHAI के bank account में ही जायेगा| इसका अर्थ है Background में NHAI का बैंक account Connect होता है जो भी पैसा कटेगा वो सीधा NHAI के account में ही जायेगा| अड़ोस पड़ोस वाले किसी अंकल के account में नहीं जा सकता, क्यूंकि इसकी programming ही ऐसे हुई है|

FASTag से पैसा कैसे Deduct होता है??

आपकी car में जो FASTag RFID chip होती है वो एक Passive Chip होती है, मतलब उसमे कोई Power source या Battery नहीं connect होती| जैसे ही आप अपनी car को Toll Plaza पर लगे हुए Scanner के एक ख़ास Radius में लाते हैं वो scanner आपके RFID पर signal डालता है और आपका RFID सारी जानकारी Scanner को Transmit कर देता है| और जितने पैसे कटने होते हैं.. वो Signal आपकी बैंक account या wallet को चला जाता है|

आपके Wallet या Account से NHAI को payment कैसे जाता है?

Back end में NCPI का जबरदस्त  इंफ्रास्ट्रक्चर काम करता है| वही आपके account की जानकारी रखता है और जैसे ही टोलप्लाजा का Scanner FASTag को read करता है अगर Tag सही है, Blacklist नहीं है.. उसमे Balance है तो वो NCPI को instruction दे देता है कि ग्राहक के account से इतनी रकम काटो|

Background में NCPI का UPI या बैंकिंग payment system उतनी रकम आपके Wallet या Account से NHAI के account में transfer कर देता है|

और थोड़ी देर में आपको message भी आता है कि NHAI के इस Highway के Toll से आपके इतने रूपए कटे, और इतना balance बचा है|

अब आप सोचिये, जब आपका RFID coded है, उसे टोलप्लाजा पर लगे scanner के अलावा कोई डिवाइस पढ़ नहीं सकती उधर Scanner पर NHAI का account नंबर ही Fixed हो रखा है मतलब जो भी पैसा जायेगा वो NHAI के account में ही जायेगा|

ऐसे में कोई बच्चा, पालिका बाजार मे 50 रूपए की 2 दर्जन मिलने वाली फर्जी घड़ी पहन कर आपकी गाड़ी के bonnet पर Locking Popping करके scan करके आपके account से पैसा उड़ा लेगा? और अगर यह इतना ही आसान है तो कोई भी parking में खड़ी गाड़ियों से ना कर लेगा scan?  सुबह से शाम तक पालिका बाजार या खान मार्केट की parking में scan करो शाम तक करोड़पति बन जाओ बढ़िया स्कीम है भाई लोग|

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments