Friday, August 19, 2022
Homeक्राइमरूस-यूक्रेन युद्ध का सहारा लेकर दुर्ग में ऑनलाइन ठगी, ट्रेडिंग कंपनी के...

रूस-यूक्रेन युद्ध का सहारा लेकर दुर्ग में ऑनलाइन ठगी, ट्रेडिंग कंपनी के नाम पर 13 लाख रुपये का लगया चूना

यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे भीषण युद्ध (Russia-Ukraine War) का फायदा अब साइबर ठगों (Cyber Frauds) ने उठाना शुरू कर दिया है। लोगों को ऑनलाइन पैसा (online money) देकर लालच देने का खेल शुरू हो गया है। छत्तीसगढ़ में इस प्रकार का पहला मामला दुर्ग जिले के सुपेला थाने में दर्ज हुआ है। सुपेला निवासी रवि कुमार साव ने शिकायत की है कि उसके साथ 13 लाख रुपये की ऑनलाइन ठगी (Online Fraud) हुई है।

रवि कुमार साव ने शिकायत में बताया कि 2 फरवरी 2022 को उसके मोबाइल पर एक मैसेज आया। मैसेज आने के बाद पीड़ित ने जब उस नंबर पर कॉल किया तब फोन उठाने वाले व्‍यक्ति ने अपना नाम शिवांश कुमार बताया। उसने पीड़ित को झांसे में लेकर कहा कि डेल्टा ट्रेडिंग नाम की कंपनी यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे युद्ध को लेकर काम कर रही है। वहां के लोग पूरी तरह से तबाह हो गए हैं, लेकिन वहां की कंपनी में पैसा जमा कराने पर उसे लाखों का फायदा हो सकता है और कंपनी के ऐप से जुड़कर वो प्रतिमाह 50 हजार से एक लाख रुपये कमा सकता है। इसके लिए उसे डेल्टा ट्रेडिंग एप्लीकेशन को डाउनलोड करना होगा।

और पढ़े:  How to Report Cyber Crime in India : ऐसे करें साइबर क्राइम की Online FIR

ठग की बात सुनकर पीड़ित ने लालच में आकर 3 फरवरी को 50 हजार रुपये डेल्टा ट्रेडिंग कंपनी के कन्वर्टेडअकाउंट में डाल दिए। उससे ट्रेडिंग का काम चालू हो गया। फिर 5 फरवरी 2022 को उसे 3,700 रुपये का लाभ होने का विड्रॉल किया गया। उसके बाद फिर पीड़ित को कॉल आया और कॉल करने वाले ने अपना नाम महावीर पटेल बताया। महावीर ने पीड़ित को डेल्टा ट्रेडिंग एप की ओर से कंपनी में पैसे इन्वेस्ट करने पर उसे 5 से 7 प्रतिशत का लाभ प्रत्येक दिन मिलने का झांसा दिया। पीड़ित ने उस पर भरोसा करके 8 फरवरी को 5 लाख 60 हजार रुपये डेल्टा ट्रेडिंग कंपनी के कन्वर्टेड अकाउंट में डाल दिए। 

और पढ़े: Cyber Crime की रिपोर्टिंग के लिए गृह मंत्रालय ने जारी किया नया हेल्पलाइन नंबर, अब 155260 की जगह 1930 नंबर पर करें कॉल

मामले को लेकर टीआई सुरेश ध्रुव ने जानकारी दी कि महावीर पटेल द्वारा दोबारा पीड़ित को कॉल कर झांसा दिया कि पैसों को वापस पाने के लिए पीड़ित को 4 लाख 70 हज़ार रुपये डेल्टा ट्रेडिंग कंपनी के कन्वर्टेड अकाउंट में ट्रांसफर करने पड़ेंगे और नहीं करने पर पीड़ित के 5 लाख 60 हज़ार रुपये डूब जाएंगे। डर की वजह से पीड़ित ने मकान के नाम पर लोन लेकर डेल्टा ट्रेडिंग कंपनी में 4 लाख 70 हजार रुपये आरटीजीएस के माध्यम से 11 फरवरी को ट्रांसफर किए।

यह भी पढ़े : इस लड़की ने Mobile App से Loan लिया तो उसकी फोटो को Nude बना करने लगे ब्लैकमेल, 6 हजार का लोन दिया, वसूले 13 हजार, अब भी मांग रहे पैसे

10 दिन बाद महावीर पटेल ने कॉल कर पीड़ित को बताया कि यूक्रेन और रूस की लड़ाई के कारण उसके रुपये डूब गए। उसके बाद 26 फरवरी को गौतम वाधवानी नामक व्यक्ति ने कॉल कर पीड़ित को बताया कि उसका खाता माइनस में चला गया है। उसकी रकम डूब जाएगी और तभी वापस मिलेगी, जब वो 3 लाख रुपये डेल्टा ट्रेडिंग कंपनी के कन्वर्टेड खाते में डालेगा। इसी तरह अलग-अलग डेट पर पीड़ित से 13 लाख 80 हजार रुपये की ठगी की गई। पीड़ित के साथ शिवांश कुमार, महावीर पटेल और गौतम वाधवानी नामक व्यक्तियों ने ठगी की है। शिकायत मिलने के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments