Friday, August 12, 2022
Homeक्राइमराम मंदिर ट्रस्ट के नाम से फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों से ठगी...

राम मंदिर ट्रस्ट के नाम से फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों से ठगी करने वाला साइबर ठग गिरफ्तार

श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की फर्जी वेबसाइट (Fake Website) बनाकर और अधिकृत लोगो (Authorised Logo) का प्रयोग कर राम मंदिर निर्माण के नाम पर भक्तों से ठगी करने वाले ठग की पहचान सुनिश्चित कर साइबर क्राइम सेल (Cyber Crime Cell) ने गिरफ्तार करने में सफलता पा ली है। इस मामले में बीते चार दिसंबर 2020 को रामजन्मभूमि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने अज्ञात के खिलाफ थाना रामजन्मभूमि में आईपीसी व आईटी एक्ट के अन्तर्गत दर्ज कराया था।

अयोध्या पुलिस की साइबर क्राइम सेल लंबे समय से आरोपी के पहचान की पुष्टि में लगी थी। शख्स की पहचान सुनिश्चित करने के बाद उसके खिलाफ साक्ष्य जुटाकर पुलिस टीम ने आरोपी की गिरफ्तारी का ताना-बाना बुना और सीओ सिटी पलाश बंसल के निर्देशन में अविनाश पुत्र दिनेश चंद्र निवासी बहुखंडी, सी-220, इंद्रा पार्क, थाना नजफगढ़, दिल्ली से गिरफ्तार कर अयोध्या ले आई।

ALSO READ: Cyber Crime की रिपोर्टिंग के लिए गृह मंत्रालय ने जारी किया नया हेल्पलाइन नंबर, अब 155260 की जगह 1930 नंबर पर करें कॉल

पुलिस टीम ने आवश्यक कार्यवाही के बाद उसे जेल भेज दिया है। आरोपी की गिरफ्तारी करने वाली टीम के सदस्यों में साइबर क्राइम के प्रभारी निरीक्षक चंद्रभान यादव, एसआई अमित शंकर यादव, कांस्टेबल रवि यादव व आरक्षी पवन कुमार त्रिपाठी शामिल रहे।

पिछले साल जून में राम जन्मभूमि ट्रस्ट अयोध्या के नाम पर कथित तौर पर अवैध वेबसाइट बनाने और राम मंदिर निर्माण के नाम पर चंदा लेकर लोगों से लाखों रुपये ठगने वाले पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था। आरोपियों को नोएडा साइबर थाने और लखनऊ साइबर क्राइम मुख्यालय की संयुक्त टीम ने गिरफ्तार किया था।

ALSO READ: How to Report Cyber Crime in India : ऐसे करें साइबर क्राइम की Online FIR


पुलिस के अनुसार आरोपियों ने श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट अयोध्या के नाम से एक वेबसाइट बनाई थी और अयोध्या में राम मंदिर के लिए स्वेच्छा से योगदान देने वाले दाताओं के लिए बैंक खाता संख्या वेबसाइट पर डाली थी।

उन्होंने दानदाताओं से लाखों रुपये ठगे। उन्होंने चंदा देने वाले लोगों का भरोसा ही नहीं तोड़ा बल्कि ठगी के काम के लिए अवैध रूप से एक वेबसाइट भी बनाई। अधिकारियों के अनुसार गिरफ्तार लोगों की पहचान आशीष गुप्ता (21), नवीन कुमार सिंह (26), सुमित कुमार (22), अमित झा (24) और सूरज गुप्ता (22) के रूप में हुई थी। इनमें से तीन उत्तर के अमेठी जिले के रहने वाले हैं। ये सभी नोएडा से सटे पूर्वी दिल्ली के न्यू अशोक नगर में रह रहे थे।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments