Monday, August 8, 2022
Homeक्राइमसाइबर ठगों के निशाने पर आए क्रिप्टो निवेशक, एक छोटी सी गलती...

साइबर ठगों के निशाने पर आए क्रिप्टो निवेशक, एक छोटी सी गलती पर लगा चुके हैं हजारों करोड़ का चूना, जानें कैसे

दुनिया के दूसरे देशों के बाद अब भारत में भी क्रिप्टो करेंसी में (Cryptocurrency) निवेश का चलन तेजी से बढ़ गया है। इसमें तेजी से बढ़ते मुनाफे को लेकर लोग क्रिप्टो (Crypyo) में पैसा लगा रहे हैं। निवेशकों के इस रूझान को देख कर साइबर अपराधी भी उन्हें निशाना बनाने लगे है। यही वजह है कि क्रिप्टो करेंसी निवेशकों की एक छोटी सी गलती का फायदा उठाकर साइबर ठगों ने उन्हें हजारों करोड़ रुपये का चूना लगा दिया। अगर आप भी क्रिप्टो करेंसी में निवेश करते हैं तो संभल जाये। कहीं ऐसा न हो कि साइबर ठगों के अगले शिकार आप ही हो। इन्हीं से बचने के लिए साइबर एक्सपर्ट बता रहे हैं क्रिप्टों करेंसी में निवेश करते समय जरूरी सावधानियां।

क्रिप्टो करेंसी एक्सपर्ट बन चूना लगा रहे साइबर अपराधी

दरअसल, देश में शेयर बाजार (Share Bazaar) के बाद क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने वाले निवेशकों की संख्या में भारी इजाफा हुआ है। इसी का फायदा उठाकर कुछ साइबर ठग अलग अलग सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर ग्रुप बनाते हैं।

इन ग्रुप्स में वे क्रिप्टों करेंसी में निवेश करने से लेकर इसमें दिलचस्पी रखने वाले ज्यादा से ज्यादा लोगों को शामिल कर लेते हैं। इतना ही नहीं इस ग्रुप में पहले यह ठग क्रिप्टों करेंसी के संबंध में एक्सपर्ट टिप्स (Crypto currency Expert Tips) देते हैं।

और पढ़े: Cyber Crime क्या हैं? कितने प्रकार के होते है Cyber Crime

इसके बाद आप को मार्केट में आने वाली नई ट्रेडिंग साइट्स की जानकारी देने लगते हैं। जैसे ही निवेशकों को इन पर भरोसा हो जाता है। तब साइबर ठग निवेशकों को दूसरे क्रिप्टो एक्सचेंज में शिफ्ट होने का झांसा देते हैं। जो की नकली होता है। इतना ही नहीं निवेशकों को इस एक्सचेंज पर लाने के लिए आरोपी तरह तरह के गिफ्ट और निवेश के तौर पर डॉलर व अन्य चीजों का प्रलोभन देते हैं।

जब निवेशक ठगों बताये एक्सचेंज पर आकर निवेश करता है। ठग उनके अकाउंट को सीज कर देते हैं। जिसे उनका पैसा फंस जाता है।

और पढ़े: Hackers ने Qubit Finance से आठ करोड़ डॉलर की क्रिप्टोकरेंसी चुराया, कंपनी ने की फिरौती की पेशकश  

डोमेन के जरिये बनाते हैं फर्जी को असली

साइबर ठग क्रिप्टों करेंसी से जुड़ी एक्सचेंज और साइटों को देखकर उस से मिलता जुलता डोमेन लेते हैं। इस पर एक दम असली वेबसाइट जैसा ही डिजाइन देकर बनवाते हैं। इसके बाद लोगों को इस साइट पर आने की सलाह देते हैं। जैसे ही निवेशक इस पर आते हैं। साइबर जालसाज उन्हें अपना शिकार बना लेते हैं।

क्रिप्टो निवेशकों को लगाया 1 हजार करोड़ का चूना

साइबर सुरक्षा कंपनी CloudSEK ने हाल ही में एक रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट केक अनुसार, साइबर ठगों ने नकली क्रिप्टों एक्सचेंज बनाकर क्रिप्टों करेंसी में निवेश करने वाले हजारों भारतीयों से करीब 128 मिलियन डॉलर से भी ज्यादा की ठगी की है। 128 मिलियन डॉलर को भारतीय रुपये के हिसाब से देखें तो यह 1 हजार करोड़ रुपये से भी ज्यादा है।

और पढ़े: मध्य प्रदेश : क्रिप्टो करेंसी एप में सेंध लगाकर दो दर्जन जापानी निवेशकों के साथ ठगी

निवेशक जरूर रखें इन बातों का ध्यान

-बिना जानकारी किसी भी क्रिप्टों करेंसी निवेशक ग्रुप में न जुड़े।

-किसी भी क्रिप्टों एक्सचेंज में निवेश से पहले अच्छे से उसकी जानकारी कर लें।

-क्रिप्टों करेंसी में निवेश से पहले ट्रेडिंग कराने वाली साइट का डोमेन चेंक कर लें।

-दूसरी एक्सचेंज में स्वीच करने की सलाह देने वाले क्रिप्टों करेंसी एक्सपर्ट पर आंख बंद कर भरोसा न करें।

-अच्छे से जांच ने के बाद भी निवेश करें।

Follow The420.in on

 Telegram | Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | YouTube

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Most Popular

Recent Comments