Sunday, January 29, 2023
HomeCyber Crimeमुंबई: जुहू चौपाटी पर भेलपूरी बेचने वाला साइबर ठग गिरफ्तार, जामताड़ा से...

मुंबई: जुहू चौपाटी पर भेलपूरी बेचने वाला साइबर ठग गिरफ्तार, जामताड़ा से है लिंक

मुंबई। मुंबई पुलिस ने 1.7 लाख रुपये के साइबर ठगी के मामले में 25 वर्षीय एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। पिछले हफ्ते गिरफ्तार हुए बद्री मोंडल ने डीबी मार्ग पुलिस को बताया कि वह कुछ साल पहले जुहू चौपाटी पर भेलपूरी बेचता था। वह साइबर ठगी के कारण बदनाम झारखंड के जामताड़ा का रहने वाला है। पुलिस के अनुसार कक्षा चार तक पढ़े इस आरोपी शख्स ने दिसंबर 2019 में एक दक्षिण मुंबई के ऑटो स्पेयर पार्ट्स की दुकान के मालिक को फोन किया और उससे पेटीएम के लिए अपने केवाईसी को अपडेट करने के लिए कहा। इसके उसने पीड़ित व्यक्ति को एक ऐप डाउनलोड करने के लिए कहा। इसके बाद उससे वन-टाइम पासवर्ड मांगा और उसके बैंक अकाउंट की जानकारी प्राप्त कर ली। 15 मिनट के भीतर, आरोपी ने पांच ट्रांजेक्शन किए और 1.7 लाख रुपये ट्रांसफर कर लिए।

ऑटो स्पेयर पार्ट्स की दुकान के मालिक के शिकायत दर्ज कराने के बाद निरीक्षक राजा बिडकर, अधिकारी प्रदीप पाटिल और राकेश शिंदे की अगुवाई में एक टीम ने मामले की छानबीन की। हमने पाया कि वाउचर रुपये से खरीदे गए थे। एक अधिकारी ने कहा कि आरोपी ने किसी भी खाते में पैसे नहीं भेजे, लेकिन कुर्ला के मॉल से गिफ्ट वाउचर खरीदे, ताकि ऐसा लगे कि पीड़ित ने उन्हें खरीदा है।

गिरोह ने वाउचर का उपयोग करते हुए पांच मोबाइल फोन खरीदे
ये वाउचर मुंबई के मॉल में इंतजार कर रहे गिरोह के सदस्यों को व्हाट्सएप पर भेजे गए। गिरोह ने वाउचर का उपयोग करते हुए पांच मोबाइल फोन खरीदे और वहां निकल गए। जब पुलिस को पता चला कि वाउचर का इस्तेमाल फोन खरीदने के लिए किया गया है, तो उन्होंने मॉल को इस्तेमाल नहीं हुए वाउचर और उनके विवरण के बारे में सचेत किया। पुलिस को मॉल से जनवरी 2020 में जानकारी मिली कि कुछ लोग ब्लॉक किए गए वाउचर का उपयोग करना चाहते थे। एक टीम वहां पहुंची और पुखराज सुतार, नरसी सुतार और संपत सुतार को पकड़ लिया। ये सभी राजस्थान के रहने वाले थे।

मोंडल को जामताड़ा पुलिस ने गिरफ्तार किया
मोंडल द्वारा वाउचर गिरोह को भेजा गया था, जिसने शिकायतकर्ता को धोखा दिया था और वाउचर खरीदे थे। पुखराज द्वारा बताए गए विभिन्न स्थानों पर छानबीन के दौरान 74 नए फोन जब्त किए गए। पुलिस ने मोंडल को ट्रेस करने की कोशिश की, लेकिन लॉकडाउन के कारण इसमें देरी हो गई। बाद में, उन्हें पता चला कि मोंडल को जामताड़ा पुलिस ने एक अन्य साइबर धोखाधड़ी मामले में गिरफ्तार किया है। जामताड़ा पुलिस ने मोंडल से एक एसयूवी और एक रॉयल एनफील्ड बाइक जब्त की थी। इसके अलावा, मोंडल के खाते में 2.5 लाख रुपये फ्रीज कर दिए गए हैं। मुंबई में मोंडल के खिलाफ आठ मामले दर्ज हैं। डीबी मार्ग पुलिस द्वारा धोखाधड़ी के मामले में उसे गिरफ्तार किया गया था और वह यूपी पुलिस ने भी उसे वॉन्टेड घोषित कर रखा था।

Subscribe to our newsletter

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments