राजधानी दिल्ली में दो गुना बढ़ा Cyber Crime, सोशल मीडिया से जुड़े मामले सबसे ज्यादा, रहें अलर्ट

Cyber Crime News : कोरोना लॉकडाउन में साइबर क्राइम के मामले तेजी से बढ़े हैं। दिल्ली पुलिस (Delhi Police 2020 Crime Data) की तरफ से जारी 2020 के क्राइम डेटा से जानिए साइबर क्राइम के किन मामलों में आई तेजी।

delhi police
प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिल्ली पुलिस कमिश्नर

नई दिल्ली : देश भर में साइबर क्राइम (Cyber Crime) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। 19 फरवरी को देश की राजधानी दिल्ली में 2020 में हुए क्राइम की रिपोर्ट में भी बढ़ते साइबर क्राइम का खुलासा हुआ है। दिल्ली पुलिस (Delhi Police Crime Report) की तरफ से जारी 2020 की रिपोर्ट में पता चला है कि लॉकडाउन में साइबर अपराध (Cyber Crime) दोगुना हुए। इनमें सोशल मीडिया (Social Media) के जरिए होने वाले साइबर क्राइम की संख्या सबसे ज्यादा करीब 24 प्रतिशत है। इनके अलावा, काफी संख्या में डॉक्टर भी पिछले साल साइबर ठगी के शिकार हुए। कोरोना लॉकडाउन के दौरान यानी 20 अप्रैल 2020 से 20 जुलाई 2020 के बीच साइबर ठगी के सबसे ज्यादा केस दर्ज हुए। इस दौरान साइबर ठगी के मामले में पुलिस ने बिहार, झारखंड, राजस्थान, यूपी, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में जाकर पुलिस को कार्रवाई करनी पड़ी।

सोशल मीडिया के जरिए दोस्ती कर न्यूड वीडियो कॉलिंग के मामले बढ़े

मीडिया से बात करते हुए दिल्ली पुलिस के अधिकारी

दिल्ली पुलिस (Delhi Police 2020 Crime Report) की तरफ से जारी रिपोर्ट के अनुसार, साइबर क्रिमिनल न्यूड वीडियो कॉल के जरिए डराकर काफी संख्या में लोगों से ठगी कर रहे हैं। साइबर अपराधी बार-बार लोगों को डराने के नए तरीके अपना रहे हैं। इसमें न्यूड वीडियो कॉलिंग के जरिए धमकाकर ब्लैकमेलिंग के काफी मामले सामने आए हैं। इसके अलावा नकली पुरस्कार प्वाइंटस ( Fake Award) या कैशबैक का झांसा, फेसबुक, गूगल पर फर्जी कस्टमर केयर नंबर डालकर ठगी के मामले बढ़े हैं।

जनवरी से मार्च तक 2000 मामले, अप्रैल से जुलाई में बढ़कर 4000 केस

दिल्ली पुलिस ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान सेनेटाइजर और मास्क को लेकर भी ऑनलाइन ठगी के केस सामने आए। दरअसल, साइबर क्रिमिनल ऑनलाइन सेनेटाइजर और मास्क को सस्ते में देने का झांसा देकर पैसे लेकर ठगी को अंजाम दिया। रिपोर्ट के अनुसार, पिछले साल जनवरी से मार्च तक जहां प्रति महीने साइबर अपराध के 2000 मामले आए थे वहीं, लॉकडाउन में, अप्रैल से जुलाई के बीच प्रति महीने 4 हजार साइबर क्राइम के मामले दर्ज हुए। पिछले साल कुल दर्ज साइबर ठगी के केस में ऑनलाइन वित्तीय धोखाधड़ी की हिस्सेदारी जहां 62 प्रतिशत थी, वहीं सोशल मीडिया से संबंधित साइबर क्राइम के मामले 24 प्रतिशत रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here