छत्तीसगढ़:बैंककर्मी ही हो गया साइबर ठगी का शिकार, ठगों ने खाते से उड़ाए 2.27 लाख रुपये

छत्तीसगढ़:बैंककर्मी ही हो गया साइबर ठगी का शिकार, ठगों ने खाते से उड़ाए 2.27 लाख रुपये
छत्तीसगढ़:बैंककर्मी ही हो गया साइबर ठगी का शिकार, ठगों ने खाते से उड़ाए 2.27 लाख रुपये

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में प्राइवेट बैंक का क्रेडिट कार्ड बंद करने का झांसा देकर साइबर ठगी करने का मामला सामने आया है। यह ठगी एक बैंककर्मी से हुई है। ठगों ने उससे ओटीपी नंबर पूछकर खाते से खाते से दो लाख 27 हजार 280 रुपये निकाल लिए। पीड़ित ने ठगी की शिकायत सिविल लाइन पुलिस थाने में तीन महीने पहले की थी। पुलिस ने जांच के बाद अब जाकर केस दर्ज किया है।

पुलिस के अनुसार गली नंबर पांच, न्यू शांतिनगर निवासी बैंककर्मी पंकज मिश्रा ने फरवरी में साइबर सेल में ठगी की शिकायत की थी। 21 फरवरी की शाम को आरबीएल बैंक के क्रेडिट कार्ड से दो लाख 27 हजार 280 रुपये का ऑनलाइन ट्रांजेक्शन कर लिया।

ऐसे हुई ठगी
पुलिस ने बताया कि पंकज ने आरबीएल बैंक के क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई किया था। क्रेडिट कार्ड जिस दिन पहुंचा, उसी दिन बैंककर्मी ने उसे बंद कराने के लिए गूगल से बैंक के कस्टमर केयर का नंबर निकाला और फोन किया। कॉलर ने ओटीपी नंबर भेजकर जानकारी पूछी और कार्ड बंद करने की बात कहते हुए फोन बंद कर दिया। इसके कुछ देर बाद बैंककर्मी के फोन पर क्रेडिट कार्ड से पैसे निकलने का मैसेज आया, तो उसकs होश उड़ गए।

साइबर सेल ने सिविल लाइन थाना पुलिस को मामला सौंपा
इसके बाद पीड़ित बैंककर्मी ने शिकायत साइबर सेल में की। फिर साइबर सेल ने तीन माह तक केस की जांच करने के बाद अब जाकर सिविल लाइन थाना पुलिस को मामला सौंपा। सिविल लाइन थाना पुलिस ने मामलें में धोखाधड़ी का केस दर्ज कर आरोपित ठग की तलाश शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here